युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। घूकना निवासी एडवोकेट मनोज नागवंशी के साथ सिहानी चुंगी प्रभारी द्वारा अभद्रता किये जाने के मामले में आज वकीलों का एक प्रतिनिधिमंडल पूर्व बार अध्यक्ष एडवोकेट नाहर सिंह यादव के नेतृत्व में एसएसपी पवन कुमार से मिला। इस मामले में वरिष्ठ अधिवक्ता नाहर सिंह ने बताया कि उन्होंने कप्तान से मांग की है कि निष्पक्ष जांच करवाकर उनके साथी वकील मनोज नागवंशी के साथ अभद्रता करने के मामले में आरोपित दरोगा के खिलाफ कार्रवाई की जाये।
श्री यादव ने बताया कि कप्तान ने उन्हें निष्पक्ष जांच कर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। इस संदर्भ में वकील मनोज नागवंशी ने बताया कि २५ दिसंबर को रात साढ़े नौ बजे के आसपास जब वह अपने घर पहुंचे तो उनके घर के बाहर कुछ लडक़े बिना वजह खड़े हुए थे। जब उन्होंने उन लडक़ों को वहां से जाने के लिये कहा तो उनके घर के बाहर खड़े युवकों ने उनके साथ अभद्रता की।
इसके बाद उन्होंने जब उक्त प्रकरण की सूचना सिहानी गेट चौकी प्रभारी को दी तो दरोगा ने ना तो कोई कार्रवाई की, उल्टे उनके साथ ही अभद्रता की। उधर इस मामले में एसएचओ नन्दग्राम व सिहानी गेट चौकी प्रभारी ने बताया कि पुलिस ने ना तो कोई अभद्रता की और न ही कार्रवाई करने में देरी लगाई। पुलिस ने वहीं किया जो जांच में सही पाया।