प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। डीसीपी रूरल विवेकचंद्र यादव के द्वारा बदमाशों की कमर तोडऩे के लिये चलाई जा रही मुहिम के तहत लोनी बॉर्डर थाने के एसओ कृष्ण कुमार शर्मा की टीम ने डीसीपी देहात की स्वॉट टीम के साथ मिलकर एसीपी अंकुर विहार भास्कर वर्मा के निर्देशन में मात्र २४ घंटे के अंदर एक और ५० हजारी बदमाश और विक्रम मावी नामक प्रोपर्टी डीलर की हत्या के मामले में वांछित चल रहे टिन्कू उर्फ हेमंत निवासी राधा विहार को आज सुबह हुई मुठभेड़ में लंगड़ा कर दिया। एसीपी अंकुर विहार भास्कर वर्मा ने बताया कि आज सुबह लोनी बॉर्डर थाने के एसओ कृष्ण कुमार को सूचना मिली थी कि कल रात हुए एंकाउंटर के दौरान जो बदमाश टिन्कू उर्फ हेमंत फरार हुआ था वह पाइन लाइन मार्ग से कहीं जायेगा। उक्त सूचना के मिलते ही डीसीपी रूरल की स्वॉट टीम व एसओ लोनी बॉर्डर कृष्ण कुमार शर्मा ने अपने सहयोगी पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर बताये गये स्थान पर चेकिंग करनी शुरू कर दी। श्री भास्कर ने बताया कि इसी बीच एक बदमाश बाइक पर आता हुआ दिखाई दिया। पुलिस ने जब उस बदमाश को रोकने का प्रयास किया तो उसने पुलिस पार्टी पर फायर करके भागना शुरू कर दिया। इस एंकाउंटर में पुलिस के द्वारा चलाई गई गोली बदमाश के पैर में लगी। उसके बाद पुलिस ने ५० हजार के ईनामी बदमाश टिन्कू उर्फ हेमंत को गिरफ्तार करके उसके पास से तमंचा, कारतूस व चोरी की बाइक बरामद कर ली। श्री वर्मा ने बताया कि कल रात भी विक्रम मावी मर्डर केस में वांछित चले पचास हजार के ईनामी गौरव को भी लोनी बॉर्डर थाना पुलिस ने लंगड़ा कर दिया था।