नोएडा (युग करवट)। उत्तर प्रदेश के साइबर क्राइम थाना सेक्टर-36 पुलिस ने आज दो साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। ये लोग विभिन्न बैंकों और कंपनियों के कॉल सेंटर नंबर को हैक कर वहां पर शिकायत करने वाले लोगों को अपने जाल में फंसाते हैं, तथा उनके खाते से मोटी रकम निकाल लेते हैं। नोएडा के सेक्टर-36 स्थित साइबर क्राइम थाने के प्रभारी निरीक्षक सुश्री रीता यादव ने बताया कि गाजियाबाद के रहने वाले केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल से रिटायर्ड अधिकारी स्टीफन वी थॉमस ने साइबर क्राइम थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी, कि कुछ दिन पूर्व उनका नेट बैंकिंग काम नहीं कर रहा था। उन्होंने बैंक के टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया तथा अपनी नेट बैंकिंग चालू करने के लिए कहा। उन्होंने बताया कि कुछ देर बाद एक व्यक्ति का फोन आया। उसने अपने आपको बैंक का कर्मचारी बताया। उनके बैंक की पूरी डिटेल उसके पास थी। साइबर ठग ने अपनी बातों में फंसा कर उनसे ओटीपी नंबर हासिल कर लिया तथा उनके खाते से 5 लाख 97 हजार रुपया निकाल लिया।
थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही पुलिस ने आज लईक तथा मोहम्मद रियाज नामक दो साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि इनके पास से पुलिस ने तीन मोबाइल फोन, 10 डेबिट कार्ड आदि बरामद किया है। थाना प्रभारी ने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये लोग विभिन्न कंपनियों के शिकायत करने वाले टोल फ्री नंबर को हैक कर वहां पर शिकायत दर्ज कराने वाले लोगों का डाटा हासिल करते हैं, तथा उनसे कंपनी का अधिकारी बन कर बात करते हैं। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को यह भी पता चला है कि आरोपी गरीब लोगों से लोन दिलाने के नाम पर संपर्क करते हैं, तथा उनसे उनके जरूरी दस्तावेज लेकर धोखाधड़ी करके बैंकों में खाता खुलवाते हैं।