युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। लैंडक्राफ्ट सोसायटी में एक के बाद एक लगातार लोगों के बीमार पडऩे से हंडकम्प मच गया था। बड़ी संख्या में लोगों के एकसाथ बीमार पडऩे के बाद स्वास्थ्य विभाग ने जांच शुरू कर दी है। तीसरे दिन भी १९ बच्चों सहित ३२ लोग सोसायटी में बीमार मिले। सभी बीमारों को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच के बाद दवाई दी हैं, वहीं पानी के आठ में से दो सैम्पल फेल मिले हैं। जिस टैंक से पूरी सोसायटी को पानी की सप्लाई की जाती है उस टैंक के नमूने फेल पाए गए हैं। विभाग की टीम ने छह लोगों के घरों से भी पानी के नमूने लिए थे जिनकी रिपोर्ट आना बाकी है। रिपोर्ट में टैंक का पानी पूरी तरह से दूषित पाया गया है। इस रिपोर्ट के बाद मेंटेनेंस विभाग के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की जा रही है।
बुधवार को यह मामला सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम वहां लगातार शिविर लगा रही हैं। अब तक शिविर में ७० से अधिक लोगों की जांच की जा चुकी है। टीम ने गुरुवार को २२ लोगों के ब्लड सैंपल, २० के कोविड जांच और सात लोगों के स्टूल सैम्पल जांचने के लिए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आठ पानी के सैंपल विभिन्न टंकियों से लिए थे जिसमें से दो सैम्पल फेल आए हैं। आज सोसायटी में पानी की टंकी की सफाई की जा रही है व लोगों को उबाल कर पानी पीने को कहा जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की प्राथमिक जांच में पानी में गंदगी मिली है। विभाग ने पानी के सैम्पल भी जांच के लिए थे जिनकी रिपोर्ट आने पर ही स्पष्टï हो सकेगा कि सोसायटी के टॉवरों में जो पानी सप्लाई हो रहा था वह दूषित था या नहीं। पानी की रिपोर्ट के बाद ही विभाग अन्य जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई करेगा। फिलहाल सोसायटी में स्वास्थ्य विभाग की टीम वहां लगातार कैंप किए हुए हैं और आपात स्थिति के लिए १०८ एंबुलेंस भी तैनात की गई हैं। सोसायटी में लगे सभी पानी की टंकियों को साफ कराया जा रहा है। डीएसओ डॉ. आरके गुप्ता ने बताया कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। मरीजों की जांच की जा रही है, अभी तक किसी मरीज की स्थिति गंभीर नहीं हुई है। सोसायटी के मुख्य टैंक का पानी खराब पाया गया है। ऐसे में जिन घरों में आरओ सिस्टम काम नहीं कर रहे हैं, वहां लोग संक्रमित पानी के सेवन से बीमार पड़ गए।
सोसायटी वासियों ने दिया ज्ञापन
गाजियाबाद। लैंडक्राफ्ट सोसायटी के 2ए टावर में बड़ी संख्या में लोगों के बीमार पडऩे के बाद सोसायटी वासियों ने लैंडक्राफ्ट गोल्फ लिंक प्रबंध निदेशक को ज्ञापन सौंपा है। अपने ज्ञापन में लोगों ने कहा कि टॉवर के मेंटीनेंस के लिए दो वर्ष के लिए अग्रिम राशि दे चुके हैं। पिछले तीन चार दिन से अचानक बहुत लोग बीमार हो गए हैं। जांच में पता चला कि पानी के टैंकों में बेहद गंदगी पाई गई जिसकी वजह से पानी दूषित हो गया है। सोसायटी वासियों ने मेंटेनेंस एजेंसी और संबंधितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने और भारी जुर्माना लगाए जाने की मांग की जिससे भविष्य में इस तरह की घटना न हो। ज्ञापन की प्रतिलिपि डीएम, एसएसपी, सीएमओ, स्वास्थ्य मंत्री व कविनगर थान प्रभारी को भी सौंपी गई हैं। ज्ञापन देने वालों में स्वाति गर्ग, नवीन सिंह, चांदनी, अलोक गर्ग, शिप्रा ग्रोवर, राज भटिया, आकाश गर्ग, अभिषेक त्यागी, कविता, मंजू ग्रोवर, संतोष, नवनीत सिंह आदि शामिल रहे।