प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। इसी साल मार्च में मेरठ में प्रेम विवाह करने वाले एक युवक ने रहस्यमय हालात में लापता हुई गर्भवती पत्नी के वियोग में एसएसपी कार्यालय में जहर खा लिया। पहले तो एसएसपी कार्यालय में मौजूद अधिकारियों ने समझा कि युवक ने पुलिस पर दवाब बनाने के लिये ड्रामा किया है, लेकिन जब युवक की हालत बिगडऩे लगी तो अधिकारियों ने तुरंत ही कविनगर पुलिस को मौके पर बुला लिया। फिर कविनगर थाना पुलिस ने देरी ना लगाते हुए जहर खाने वाले सुमित चौधरी को अस्पताल में भर्ती करवा दिया। जहां, चिकित्सकों ने सुमित चौधरी निवासी मानसरोवर कॉलोनी लाल कुआं कविनगर का उपचार शुरू कर दिया। इस संदर्भ में एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि युवक ने जहर खाया या नहीं और अगर खाया तो किस कारण खाया इन सवालों का पता लगाने के लिये जांच के निर्देश दे दिये हैं। कप्तान ने बताया कि जांच के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जायेगी।
जानकारी के अनुसार आज सुबह मानसरोबर कॉलोनी लाल कुआं थाना कविनगर निवासी सुमित चौधरी नामक युवक एसएसपी कार्यालय पर पहुंचा, जहां उसने पुलिस की मौजूदगी में ही जहर खा लिया। जहर खाने की बात का पता चलते ही एसएसपी कार्यालय में हडक़ंप मच गया। उसके बाद पुलिस अधिकारियों ने जब सुमित चौधरी से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने मार्च माह में निवाड़ी थाना क्षेत्र में रहने वाली नेहा नामक युवती से कोर्ट मैरिज की थी। कुछ समय तो सबकुछ ठीक ठाक चलता रहा, लेकिन बात उस समय बिगड़ी कि जब पति-पत्नी के बीच जितेंद्र, प्रमोद, पंकज शर्मा आदि आ गये। इसके बाद उसकी पत्नी आये दिन उससे न केवल झगड़ा करने लगी, बल्कि एक दिन आरोपितों ने नेहा के साथ मिलकर उसके ऊपर जानलेवा हमला भी बोल दिया।
सुमित ने बताया कि उस समय तो मामला सुलट गया, लेकिन आरोपीगण १५ जुलाई को उसकी गभवती पत्नी नेहा चौधरी को बरगलाकर अपने साथ ले गये। उसने उक्त घटना की लिखित सूचना कविनगर थाना पुलिस को उसी समय दे दी थी, लेकिन पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करने के अलावा कोई कार्रवाई नहीं की। सुमित चौधरी ने बताया कि पत्नी के लापता हो जाने के वियोग एवं पुलिस के गैर जिम्मेदारानापूर्ण रवैये से आहत होकर उसने कुछ समय पहले भी आत्महत्या का प्रयास किया था। लेकिन, उस समय उसकी जान बचा ली गई। अब फिर उसने पूरी तरह से हताश होकर चुहा मारने वाली दवा खा ली है। इस संदर्भ में कविनगर थाने के प्रभारी एसएचओ ने बताया कि उन्हें इस मामले की पूरी जानकारी नहीं है। उधर कप्तान का कहना है कि इस प्रकरण में जो भी दोषी पाया जायेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।