युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र के चौथे दिन, लोकसभा में भारत की अर्थव्यवस्था पर सवाल किया गया, जिसके जवाब में सदन का माहौल थोड़ा गर्मा गया। तेलंगाना से कांग्रेस सांसद अनुमुला रेवंत रेड्डी ने प्रश्नकाल को दौरान प्रधानमंत्री मोदी के एक पुराने बयान को सामने रखकर देश की अर्थव्यवस्था पर सवाल किया। जिसके जवाब में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश की मज़बूत अर्थव्यवस्था को देखकर कुछ लोगों को जलन हो रही है। तेलंगाना से कांग्रेस सांसद अनुमुला रेवंत रेड्डी ने प्रधानमंत्री मोदी के एक पुराने बयान को सामने रखा, जिसमें उन्होंने कहा था कि रुपया आईसीयू में पड़ा है, देश का दुर्भाग्य है कि दिल्ली सरकार को देश की चिंता नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि आज सरकार को अपनी कुर्सी बचाने की चिंता है। रुपए गिरने की कोई चिंता नहीं है, कोई एक्शन प्लान नहीं है।
जब डॉलर की कीमत 66 रुपए थी, तब इन्होंने कहा था कि रुपया आईसीयू में है, अब रुपये की कीमत 83.20 है। उन्होंने कहा की आईसीयू से दो रास्ते जाते हैं- एक ठीक होकर घर वापस आना और दूसरा मुर्दाघर जाने का। तो अब अगर रुपया 83.20 है तो मतलब हम सीधा मॉर्चुरी में जा रहे हैं। इसपर उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से सवाल किया कि रुपए को मॉर्चुरी से वापस लाने का क्या कोई एक्शन प्लान है?