नोएडा (युग करवट)। थाना बिसरख पुलिस ने एक युवती की हत्या कर उसके चेहरे पर तेजाब डालकर सबकी पहचान मिटाने के मामले में एक युवक और युवती को आज दोपहर बाद हिरासत में लिया है। बताया जाता है कि हिरासत मे ली गई युवती के माता-पिता ने पूर्व में आत्महत्या कर ली थी। उसको शक था कि उसके रिश्तेदारों की वजह से उसके माता-पिता ने आत्महत्या की है। इस बात का बदला लेने के लिए उसने अपने आप को मृत घोषित कर, उनकी हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार थाना बिसरख क्षेत्र में स्थित गौर सिटी मॉल से 12 नवंबर को हेमा नामक युवती लापता हो गई थी। इस मामले की जांच में जुटी थाना बादलपुर पुलिस को पता चला कि बढ़पुरा गांव की रहने वाली पायल नामों की युवती की दोस्ती फेसबुक के माध्यम से बुलंदशहर के रहने वाले अजय ठाकुर नामक युवक से हुई। युवती ने हेमा को अपने जाल में फंसाकर अपने पास बुलाया तथा उसकी चाकू से गोदकर हत्या कर दी। पायल ने हेमा के शरीर पर अपने कपड़े और सिंगार के सामान पहना दिये और उसके मुंह को तेजाब से जला दिया। बाद में गांव के लोगों ने युवती की पहचान पायल के रूप में की तथा उसका अंतिम संस्कार कर दिया। आज दोपहर बाद पुलिस ने अजय ठाकुर और पायल को हिरासत में लिया। जब दोनों से पूछताछ की गई तो पायल ने पुलिस को बताया कि उसके माता-पिता ने कुछ समय पूर्व आत्महत्या कर ली थी। उसे शक है कि उसके रिश्तेदारों के उत्पीडऩ के चलते उन्होंने आत्महत्या की है। अपने रिश्तेदारों की हत्या करने के लिए उसने अजय ठाकुर के साथ मिलकर प्लान बनाया। वह अपने आप को मृत साबित कर अपने रिश्तेदारो की हत्या करना चाहती थी। अजय ठाकुर ने भी बुलंदशहर के सिकंदराबाद थाने में अपनी गुमशुदगी दर्ज करवा दी थी। अजय और पायल दोनों बुलंदशहर में रह रहे थे।