युग करवट ब्यूरो
बागपत। रालोद के राष्ट्रीय सचिव, पूर्व मंत्री के भाई, पूर्व विधायक के भाई और भाजपा नेताओं समेत 50 लोगों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। इनके खिलाफ पहले से आपराधिक मुकदमा दर्ज होने के कारण लाइसेंस निरस्त करने के लिए एसपी ने फाइलें डीएम के पास भिजवाई थीं। जिन पर कार्रवाई कर लाइसेंस निलंबित किए गए। इनके अतिरिक्त 100 लोगों के लाइसेंस निरस्त करने के लिए फाइलें तैयार की गई हैं। वे भी जल्द डीएम के पास भेजी जाएंगी। एसपी नीरज कुमार जादौन ने उन सभी लोगों की सूची तैयार कराई, जिनके खिलाफ आपराधिक मुकदमा दर्ज हैं। उन पर मुकदमा होने से पहले से शस्त्र लाइसेंस हैं। जिसमें रालोद, भाजपा के बड़े नेताओं से लेकर पूर्व चेयरमैन व पूर्व प्रत्याशियों तक के नाम सामने आए। डीएम राजकमल यादव ने अभी ऐसे करीब 50 लाइसेंस निलंबित करके शस्त्र को थाने में जमा कराने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही इन सभी के लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। रालोद के राष्ट्रीय सचिव सुखबीर सिंह गठीना, पूर्व मंत्री साहब सिंह के भाई रामनिवास निवासी बाघू, पूर्व विधायक लोकेश दीक्षित के भाई प्रवीण दीक्षित, भाजपा नेता योगेंद्र सोलंकी, सपा छोडक़र भाजपा में आए रामपाल यादव, पूर्व चेयरमैन नीलम धामा, भाजपा नेता दुष्यंत कुमार, अजय कुमार, बलराज, कृष्णपाल, सुल्तान, अमित त्यागी, वसीम राजा, हबीबुर्रहमान, अजय ढाका, सलीम, जयवीर, पांची के पूर्व प्रधान शमशेर जुल्वा के बेटे शाहिद, कुलदीप सिंह व सुरेंद्रपाल, लोकेंद्र व प्रवीण, कृष्णपाल व डा. संजीव नैन, ठाकुर प्रद्युमन प्रताप सिंह, मनोज, वसीम व इरशाद, किरनपाल, राकेश, दीपक, अब्दुल गफ्फार, वीरेंद्र, आदेश व वीरसेन, श्यामसुंदर, इकबाल निवासी लुहारा के लाइसेंस निलंबित किए गए हैं।