रोहित शर्मा
गाजियाबाद (युग करवट)। निकाय चुनाव के लिए शतरंज की बिसात बिछ चुकी है। शह-मात के इस खेल में रोमांच भी धीरे-धीरे चरम पर पहुंचेगा। राजनीतिक दल एक दूसरे को मात देने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। पश्चिमी यूपी में दबदबा रखने वाली पार्टी रालोद पासे फेंकने को तैयार है। रालोद की इस चाल से भगवा गढ़ में दबदबा रखने वाली सत्ताधारी भाजपा में भूचाल आ सकता है।
निकाय चुनाव की तैयारियों की शुरूआत में ही उसके पांव लड़खड़ा सकते हैं। खबर है कि भाजपा के दो कद्दावर नेता जल्द ही रालोद ज्वॉइन कर सकते हैं। दोनों भाजपा नेताओं के आगमन की तैयारी रालोद में शुरू हो चुकी है। उनके अभिनंदन के लिए रालोद ने रेड कॉरपेट बिछा दिया है। सब कुछ रणनीति के अनुसार चला तो मंगलवार को राष्ट्रीय लोकदल बड़ा धमाका कर सकता है। दरअसल, राष्ट्रीय लोकदल लोकसभा 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में पूरी ताकत के साथ उतरना चाहता है। इसके लिए पार्टी ने अभी से तैयारियों को अमली जामा पहनाना शुरू कर दिया है। रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी के नेतृत्व में रालोद समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन करके चुनाव जीत चुकी है। वर्तमान में रालोद के आठ विधायक विधानसभा में उसकी आवाज उठा रहे हैं।
खुद जयंत चौधरी समाजवादी पार्टी की मदद से राज्यसभा में अपनी पार्टी का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। जयंत चौधरी जानते हैं कि लोकसभा चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन करने के लिए पार्टी को अभी से ही जमीन तैयार करनी होगी। इसके लिए उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव से बेहतर कोई मौका नहीं हो सकता है। रालोद पहले ही साफ कर चुका है कि निकाय चुनाव में पार्टी शहर से लगे ग्रामीण क्षेत्रों से अपने चुनावी रण की शुरूआत करेगी। पार्टी की रणनीति है कि शहरी क्षेत्र से लगे ग्रामीण क्षेत्रों से भाजपा को घेरते हुए आगे बढ़ा जाए। रालोद यह भी जानता है कि भाजपा को उसके ही गढ़ में घेरने के लिए महारथियों की जरूरत पड़ेगी। ऐसे नेताओं को पार्टी में जोडऩा होगा जिन्होंने भगवा गढ़ में भाजपा के लिए परचम बुलंद किया हो।
इसके लिए पार्टी ने खास रणनीति पर काम करना भी शुरू कर दिया है। रालोद के सूत्र बता रहे हैं कि एक मजबूत क्षेत्र में के भगवा गढ़ में सेंध लगाने में कामयाब हो गई है। भाजपा का चेहरा माने जाने वाले कद्दावर नेता एवं उनकी नेत्री पत्नी से रालोद का समझौता हो चुका है। खबर है कि उनका अगला चुनाव रालोद के बैनर पर लडऩे के लिए शतरंज की गोटियां बिछा दी गई है। सूत्र बता रहे हैं कि भाजपा का चेहरा माने जाने वाला ये दंपत्ति रालोद ज्वॉइन कर सकता है। इस ताकतवर जॅवाइनिंग से रालोद को ताकत मिलेगी।