रामपुर विधानसभा उप चुनाव में भाजपा उम्मीदवार आकाश सक्सेना के समर्थन में रामपुर पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भाषण का अंदाज जनसभा के दौरान बहुत बदला हुआ था। हमेशा सख्त लहजे में भाषण देने वाले योगी आदित्यनाथ बहुत ही नरम लहजे में अपनी बात रख रहे थे। हालांकि उन्होंने बिना नाम लिये आजम खां पर जरूर कटाक्ष किये। योगी जी ने जहां आजम खां का नाम लिये बिना कहा कि वह अपनी सेहत का ख्याल रखें, वहीं उन्होंने ये भी कहा कि आज जो कुछ उनके साथ हो रहा है वह उनका अपना बोया हुआ है। इस दौरान उन्होंने मदरसे का भी जिक्र किया। उन्होंने ये भी कहा कि मदरसे हमेशा अच्छी तालीम देते हैं। मदरसों के बारे में अच्छी तालीम का बयान पहली बार ही उन्होंने सार्वजनिक मंच से दिया। उन्होंने कहा कि एक ऐसे इंसान ने २०० साल पुराने मदरसे को खत्म कर दिया जो अच्छी तालीम देता है। उन्होंने कहा कि रामपुर की विरासतों को खत्म करने का प्रयास किया। उनकी पाण्डुलिपियों को बर्बाद कर दिया। ऐसा भी पहली बार हुआ जब किसी उम्मीदवार के समर्थन में आयोजित जनसभा में मुख्यमंत्री ने एक बार नहीं बल्कि १७ बार आकाश सक्सेना का नाम लिया। उन्होंने ये भी कहा कि रामपुर में भाजपा के पास कई और अच्छे उम्मीदवार थे, लेकिन आकाश सक्सेना ने अन्याय के खिलाफ आवाज उठाई थी इसलिए पार्टी ने उन्हें दोबारा मौका दिया। बार-बार आकाश सक्सेना का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि ये आपके बीच के हैं और आपकी तमाम समस्याओं का समाधान करेंगे। आप एक बार इन्हें मौका दें। मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि अगर ये आपके काम नहीं करेंगे तो मेरे दरवाजे आपके लिये हमेशा खुले हैं। उन्होंने ये भी एहसास दिलाया कि आकाश सक्सेना के जीतने या हारने से ना तो योगी सरकार पर कोई फर्क पड़ रहा है और ना ही मोदी सरकार पर फर्क पड़ेगा। मैं भी रहूंगा और मोदीजी भी रहेंगे, लेकिन रामपुर के लोग अगर आकाश सक्सेना को जिता देंगे तो पूरे देश में एक मैसेज जायेगा कि रामपुर के लोग भी अब बदल गए हैं और वह विकास के साथ जुडऩा चाहते हैं। मुख्यमंत्री की इस बात में बहुत संकेत थे। उन्होंने ये भी कहा कि लोकसभा चुनाव में रामपुर के लोगों ने उनकी बात रखी और लोधी जी को एमपी बनाया। मैं इससे पहले आभार करने आ चुका हूं। उन्होंने बहुत ही अलग अंदाज में लोगों से कहा कि मैं आपके बीच एक बार फिर आया हूं कि आप एक बार आकाश सक्सेना को जिताकर देखें, फिर इस शहर का विकास ही विकास होगा। बहरहाल योगी जी के बदलते अंदाज और भाषण के बाद जरूर चुनाव पर असर पड़ेगा, ऐसी उम्मीद है। क्योंकि, उन्होंने जिस तरह से अपील की है उससे लगता है कि रामपुर में भी शायद इतिहास बदले। – जय हिन्द।