युग करवट संवाददाता
लखनऊ। देररात करीब दो बजे मशहूर शायर मुनव्वर राना के घर लखनऊ और रायबरेली की पुलिस पहुंच गई। पुलिस मुनव्वर राना के बेटे तबरेज की तलाश में वहां पहुंची। रात करीब 2 बजे पुलिस ने हुसैनगंज के लालकुआं स्थित एफआई टावर ढींगरा अपार्टमेंट में मुनव्वर राना के फ्लैट पर छापा मारा तो परिवार वाले सकते में आ गए। छापे के दौरान पुलिस ने फ्लैट की तलाशी ली। लेकिन तबरेज नहीं मिला।
वहीं मुनव्वर राना के परिजनों का कहना है कि पुलिस ने घर में जमकर तांडव किया और सभी के मोबाइल फोन छीन लिए। पुलिस ने महिलाओं से अभद्रता भी की। पुलिस के बर्ताव से परिवारवाले खासे नाराज हैं। दरअसल, 28 जून को मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना ने रायबरेली में सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। उनका आरोप था कि वह अपनी कार से त्रिपुला चौराहे के पास स्थित पेट्रोल पंप से डीजल लेकर निकल रहे थे तभी एक बाइक पर सवार दो युवकों ने कार पर फायरिंग कर दी।  तबरेज का कहना है कि वह अपनी लाइसेंसी गन लेकर नीचे उतरे तो नकाबपोश बदमाश मौके से भाग गए। पुलिस ने पेट्रोल पंप के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज लेकर मामले की जांच शुरू की तो मामले की सच्चाई सामने आ गई। सीसीटीवी में एक कार आती दिखाई दी, तभी एक बाइक पर सवार युवक आए। चंद सेेकेंड बाद ही बाइक सवार वहां से चले गए। पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है।
चाचा को फंसाने के लिए तबरेज ने खुद पर कराई थी फायरिंग
वहीं, रायबरेली पुलिस का कहना है कि 28 जून को शायर मुनव्वर के बेटे तबरेज राना पर हुआ जानलेवा हमला फर्जी था। तबरेज ने अपने प्रतिद्वंदियों को फंसाने के लिए खुद पर गोली चलवाई थी। इसी मुकदमे में तबरेज की गिरफ्तारी को लेकर रायबरेली पुलिस ने गुरुवार रात छापेमारी की है। पुलिस का कहना है कि तबरेज ने अपने चाचा और चचेरे भाइयों को फसाने के लिए मुकदमा दर्ज कराया था। अब मुकदमे में रायबरेली पुलिस ने तबरेज राना को फर्जी मुकदमा दर्ज कराने, प्रतिद्वंदी को फंसाने और तथ्य छुपाने का आरोपी बना दिया है। इसके बाद रायबरेली पुलिस तबरेज राना की तलाश कर रही है। इसी सिलसिले में गुरुवार देर रात लखनऊ में हुसैनगंज स्थित एफआई टावर के ढींगरा अपार्टमेंट में छापेमारी की गई।
एक और बिकरूकांड होने वाला था: मुनव्वर राना
पुलिस की छापेमारी के बाद शायर मुनव्वर ने वीडियो जारी कर कहा कि एक दिन हमारी जंगल में लाश पड़ी मिलेगी। पुलिस दूसरा बिकरू कांड करने की तैयारी में है। इसमें इतना हंगामा करने की क्या जरूरत है। अब ये मुनव्वर राना बिकरू कांड हो गया है। जब पुलिसकर्मियों से वारंट के बारे में पूछा तो उन्होंने मुझे हटने के लिए बोल दिया। मुनव्वर ने आगे कहा कि पुलिस ने गुंडागर्दी की। इनमें से कोई मुझे मार भी देगा और न भी मारे तो मैं इन हालात में मर जाऊंगा। कहा कि पुलिस वाले मुझे हटने के लिए बोल रहे थे… मैं कैसे हट जाऊं। वो मेरा बेटा है। मेरी सबसे बड़ी गलती है कि मैंने उसे पैदा किया है।