युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश महिला आयोग की अध्यक्ष विमला बाथम ने शुक्रवार को महात्मा गांधी सभागार में महिलाओं से संबंधित योजनाओं की समीक्षा की। इसके बाद महिला उत्पीडऩ से संबंधित मामलों की सुनवाई भी की। विमला बाथम ने विभाग वार महिला कल्याणकारी योजनाओं की प्रगति जानी और किस योजना में कितनों को लाभ दिया गया है, इसकी जानकारी ली गई। विमला बाथम ने कई विभागों में लंबित मामलों को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि इन मामलों का निस्तारण जल्द से जल्द किया जाए। साथ ही थानों में लंबित उत्पीडऩ के मामलों में देरी से न्याय मिलने पर भी उन्होंने नाराजगी जाहिर की।
विमला बाथम ने मिशन शक्ति के तहत कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए कहा कि महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति सचेत करना चाहिए ताकि वह उनका उपयोग कर सकें। सरकार द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, उनका लाभ हर महिला को मिले, इसके लिए व्यापक प्रचार प्रसार करना चाहिए। समीक्षा बैठक के बाद विमला बाथम ने महिला उत्पीडऩ से जुड़े मामलों की सुनवाई भी की। इस दौरान सीडीओ अस्मिता लाल, सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधर, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल, सीओ अंशु जैन व जिला प्रोबेशन अधिकारी विकास चंद्र आदि मौजूद रहे।