प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। प्रत्येक जिले से प्रदेश की राजधानी लखनऊ तक प्रस्तावित राजधानी एक्सप्रेस-बसों की सुविधा का प्लान एक महीने और पीछे हट गया है। पहले राजधानी एक्सप्रेस चलाने की योजना इसी महीने से थी। इस योजना का 26 जनवरी को ही उदघाटन होने का प्लान था। मगर अब यह योजना एक महीना पीछे हट गई है। रोडवेज सूत्रों का कहना है कि गाजियाबाद को इसी महीने इस योजना के लिए 10 नई बसें मिलने जा रही थी। यह सभी बसें 18 जनवरी तक गाजियाबाद में रोडवेज के बेड़े में शामिल होने की संभावना थी। मगर अब इस योजना को एक महीने पीछे कर दिया गया है। दरअसल इस मामले में रोडवेज के अधिकारियों का कहना है कि प्रदेश सरकार की ओर से इस योजना के लिए प्रदेश भर में संचालित करने के लिए पहले चरण में 150 नई बसें खरीदी जा रही है। बसों के चेसिस प्रदेश सरकार को थोड़ा देर से मिले है। अब प्रदेश सरकार को जो चेसिस मिले है उनका कानपुर वर्कशॉप में बॉडी बनाने का कार्य किया जा रहा है। कुछ बसों की बॉडी राजस्थान में बनाई जाएगी। ताकी जल्दी से जल्दी बसों की बॉडी बनाने का कार्य पूरा हो। इसके बाद ही इन बसों का आवंटन रोडवेज की यूपी में सभी 32 रीजन में किया जाएगा।