युग करवट ब्यूरो
लखनऊ। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्रालय व प्रदेश सरकार के शीर्ष अधिकारियों के साथ उत्तर प्रदेश डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को लेकर महत्वपूर्ण बैठक ली। बैठक में रक्षा उपकरण का उत्पादन करने वाली देश की दिग्गज कंपनियों के विशेषज्ञ भी शामिल हुए। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज अपने तीन दिवसीय दौरे पर लखनऊ पहुंचे। अमौसी एअरपोर्ट पर मंत्री बृजेश पाठक ने उनकी आगवानी की। एअरपोर्ट से रक्षामंत्री सीधे मुख्यमंत्री आवास पहुंचे जहां यह बैठक थी। लखनऊ में तीन दिनी प्रवास के दौरान विभिन्न सामाजिक तथा राजनीतिक गतिविधियों में शिरकत करेंगे। बैठम में डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की बैठक ली। राजनाथ सिंह ने कहा कि पिछले सात वर्षों के दौरान ३५० लाइसेंस जारी किये गये, जबकि पिछली सरकारों के कार्यकाल में २०० लाइसेंस जारी किये गये थे।
उत्तर प्रदेश में छह नोड में उत्तर प्रदेश डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की स्थापना की गई है। इसमें 11207.63 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है। इसके लिए इंवेस्टर्स समिट में 57 एमओयू पर हस्ताक्षण भी हुए थे। जिसमें करीब ढाई लाख लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। इसके लिए 1482 हेक्टेयर का लैंड बैंक बनाया गया है। उत्तर प्रदेश डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की यूनिट आगरा, अलीगढ़, लखनऊ, कानपुर, झांसी तथा चित्रकूट में स्थापित की जा रही हैं। अब तक 24 कंपनियों को 337 हेक्टेयर भूमि आवंटित कर दी गई है। लखनऊ में ब्रह्मोस मिसाइल के निर्माण के लिए कंपनी को 80 हेक्टेयर तथा झांसी में भारत डायनामिक्स को 183 हेक्टेयर जमीन आवंटित की गई है। आज की बैठक में कार्य प्रगति की समीक्षा के साथ ही आगे की योजना पर भी चर्चा की गई। राजनाथ सिंह आज शाम राजधानी में बाबू बनारसी दास यूनिवर्सिटी में पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय डा.अखिलेश दास की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। शनिवार को राजनाथ सिंह पीटीसी इंडस्ट्रीज परिसर, कानपुर रोड में आयोजित लोकार्पण व शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होंगे।