युग करवट संवाददाता
लखनऊ। लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई टाल दी। दरअसल, यूपी सरकार ने कोर्ट से सुनवाई की तारीख आगे बढ़ाने की मांग की। इस अपील को मानते हुए कोर्ट ने कहा कि वह इस मामले पर 15 नवंबर को सुनवाई करेगी। लखीमपुर-खीरी मामले पर चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टि हिमा कोहली की बेंच सुनवाई की। इस मामले में यूपी सरकार की ओर से सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे पेश हुए। उन्होंने कोर्ट से दरख्वास्त की कि कोर्ट उन्हें सोमवार तक का समय दे, ताकि वो केस पर काम पूरा कर सकें। इसके बाद कोर्ट ने उनकी अपील को स्वीकार कर लिया। सुप्रीम कोर्ट में आज लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा की घटना की जांच हाईकोर्ट के एक सेवानिवृत जज से कराने पर फैसला आने वाला था। इससे पहले ही प्रदेश सरकार ने समय मांग लिया। लखीमपुर खीरी मामले में गृहराज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र पर गंभीर आरोप है। मंत्री का बेटा फिलहाल जेल में हैं।