युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। गाजियाबाद बैडमिंटन एसोसिएशन द्वारा महामाया स्पोर्ट्स स्टेडियम में आयोजित यूपी स्टेट जूनियर अंडर-१९ बैडमिंटन चैंपियनशिप का आगाज हो गया है। चार दिन तक चलने वाली इस प्रतियोगिता का शुभारंभ राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल और यूपी ओलंपिक एसोसिएशन के उपाध्यक्ष डॉ.पीएन अरोड़ा व पूर्व आईएएस रविंद्र गोडबोले ने फीता काटकर व नारियल फोड़ कर किया। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने अतिथियों का स्वागत बुके देकर किया।
सांसद अनिल अग्रवाल ने इस अवसर पर कहा कि आज अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ी देश का नाम रोशन कर रहे हैं। सरकार द्वारा खेलो इंडिया अभियान के तहत नए प्रतिभावान खिलाडिय़ों को अवसर दिया जा रहा है। ऐसे में खिलाडिय़ों को भी अपनी प्रतिभा के साथ आगे बढऩा चाहिए। सरकार उनकी हर संभव मद्द करने को तैयार है। डॉ.पीएन अरोड़ा ने कहा कि खेल शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी बेहतर हैं। खेलों से जीवन में अनुशासन आता है, आत्मविश्वास और आगे बढऩे व निरंतर लक्ष्य को प्राप्त करने की भावना जागृत होती है। अभिभावकों को चाहिए कि वह छोटी उम्र से ही बच्चों की किसी ना किसी खेल में रूचि बढ़ाएं ताकि बच्चों का बेहतर विकास हो सके। पूर्व आईएएस रविंद्र गोडबोले ने कहा कि अभिभावकों को अभी भी लगता है कि खेलों में कोई कैरियर नहीं है लेकिन अब समय बदल रहा है। खेलों में ना सिर्फ कैरियर है बल्कि बहुत संभावनाएं भी हैं। गाजियाबाद बैडमिंटन एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित जायसवाल ने बताया कि चार दिन की प्रतियोगिता में ३२५ मैच खेले जाएंगे। प्रतियोगिता में 60 जिलों के करीब साढ़े चार सौ खिलाड़ी प्रतिभाग कर रहे हैं। प्रतियोगिता के विजेता खिलाडिय़ों को इनाम के तौर पर नगद राशि भी दी जाएगी।अंडर-१९ वर्ग में युगल, एकल, मिश्रित वर्ग के बालक-बालिका कैटेगिरी में मैच खेले जाएंगे। जीतने वाले खिलाड़ी को एक लाख रुपए का नगद पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा नेशनल प्रतियोगिता के लिए भी खिलाड़ी क्वालीफाई करेंगे। कार्यक्रम का संचालन एसोसिएशन के महासचिव नरेन्द्र शर्मा ने किया। इस दौरान टूर्नामेंट डायरेक्टर गुलशन भांबरी, अरविंद चौधरी, अमित शर्मा आदि मौजूद रहे।