युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश में लगातार दूसरे साल भी बिजली दरों में इजाफा नहीं होगा। प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम-९ के साथ हुई शुक्रवार को बैठक में इसका निर्णय लिया। यह निर्णय प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण के चलते लिया है। योगी सरकार के इस फैसले से उपभोक्ताओं को बड़ी राहत मिलेगी।
बता दें कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण हालात बदहाल हो गए हैं। संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए यूपी सरकार ने लॉकडाउन लगा दिया जिसके कारण बड़ी संख्या में लोगों के कारोबार व रोजगार ठप हो गए। लोग प्रदेश में आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। ऐसे में योगी ने महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए फिलहाल इस साल प्रदेश में बिजली की दरें ना बढ़ाने का फैसला लिया है। यह लगातार दूसरा साल है जब प्रदेश में बिजली की दरों में इजाफा नहीं होगा। हालांकि, यह बात अलग है कि यूपी में वर्तमान में जो बिजली दर प्रदेश सरकार उपभोक्ताओं से वसूल रही है, वह अन्य राज्यों के मुकाबले काफी अधिक है। लेकिन कोरोना के दौर में अन्य कोई नई दर ना बढ़ाने से उपभोक्ताओं को राहत मिलने की उम्मीद है।