युग करवट संवाददाता
गाजियाबद। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आयार्च प्रमोद कृष्णम आज सीतापुर के लिए रवाना हुए हैं। कांग्रेस के दोनों वरिष्ठ नेताओं को यूपी गेट बॉर्डर पर पुलिस के साथ भारी जद्दोजहद का सामना करना पड़ा। समाचार लिखे जाने तक जिलाधिकरी एवं एसएसपी गाजियाबाद ने सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम् को चार गाडिय़ों के साथ बॉर्डर से आगे जाने की इजाजत दे दी है। सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम् का काफिला गाजियाबाद से आगे की ओर कूच कर गया था। गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जाते हुए कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी को हिरासत में ले लिया गया था। उन्हें सीतापुर के पीएसी गेस्ट हाऊस में रखा गया है। आज सुबह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट एवं प्रियंका गांधी के राजनीतिक सलाहाकार आचार्य प्रमोद कृष्णम् सीतापुर के लिए रवाना हुए। दोपहर लगभग बारह बजे दोनों नेता यूपी गेट बॉर्डर पर पहुंचे। यहां पहले से मौजूद कांग्रेसियों ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बबली नागर के नेतृत्व में सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम की अगुवाई करते हुए जोरदार नारे लगाए। बॉर्डर पर डीएम व एसएसपी भी भारी पुलिस फोर्स के साथ तैनात थे। इस दौरान लगभग बीस मिनट तक सचिन पायलट व आचार्य प्रमोद कृष्णम् की डीएम और एसएसपी के साथ वार्ता हुई। इस दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ता जोरदार नारेबाजी भी करते हुए दिखाई दिए। बताया जा रहा है कि सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम को चार गाडिय़ों के साथ आगे बढऩे की परमिशन दी गई है। इस दौरान प्रदेश सचिव वीर सिंह चौधरी, पूर्व प्रदेश सचिव कार्तिकेय कौशिक, सरदार सतनाम सिंह, एआईसीसी सदस्य नरेन्द्र राठी व पीसीसी सदस्य संजीव शर्मा आदि मौजूद रहे।