युग करवट संवाददाता
ग्रेटर नोएडा। भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष राज नागर ने दो मंडल अध्यक्षों को बर्खास्त कर दिया। इसके बाद भाजपा के जिला अध्यक्ष विजय भाटी ने युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष राज नागर द्धारा किए गए बर्खास्तगी पर विजय भाटी ने एक ट्वीट कर बताया कि युवा मोर्चा के किसी भी मंडल अध्यक्ष को हटाया नहीं गया है। पूर्व में नियुक्त किए गए अध्यक्ष बने रहेंगे। दूसरी ओर बर्खास्त किए गए मंडल अध्यक्षों ने राज नागर पर जातिवाद और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। राज नागर ने इन आरोपों को खारिज किया है।
जानकारी के अनुसार भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष राज नागर ने भाजपा युवा मोर्चा रबूपुरा मंडल के अध्यक्ष नरेश शर्मा और दनकौर मंडल अध्यक्ष मयंक पंडित को बर्खास्त कर दिया था। इन दोनों की जगह दनकौर मंडल में बालेश्वर नागर और रबूपुरा मंडल में दीपक तोमर को अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंप दी। दोनों मंडल अध्यक्षों ने जिलाध्यक्ष राज नागर पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इन लोगों का कहना है कि होर्डिंग छपवाने और फोटो छोटा-ब?ा लगवाने के नाम पर राज नागर परेशान करते हैं।
राज नागर का कहना है कि मयंक पंडित और नरेश शर्मा के आरोप पूरी तरह निराधार हैं। पिछली कार्यकारिणी में इन दोनों लोगों ने बहुत अच्छा काम किया था। जिसे ध्यान में रखकर इस बार मंडल अध्यक्ष का दायित्व दिया गया था। जिला कार्यकारिणी इन दोनों को संगठन से जुड़ी गतिविधियों में शामिल रहने के लिए कह रही थी। दोनों लोग पूरी तरह निष्क्रिय थे। अब तक युवा मोर्चा की केवल एक बैठक में भाग लिया था। जिला कार्यकारिणी के महामंत्री ने कई बार इन दोनों मंडल अध्यक्षों को दायित्व सौंपे थे। जिनका निर्वाह नहीं किया गया। इन दोनों को हटाने के लिए भाजपा जिला अध्यक्ष विजय भाटी से बात की गई थी। उन्होंने अपनी सहमति दे दी थी। जिसके बाद दोनों को पद मुक्त किया गया। बुधवार को यह मामला तूल पकडऩे लगा। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष विजय भाटी ने युवा मोर्चा के अध्यक्ष राज नागर का फैसला पलट दिया है।