युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं को और अधिक बेहतर बनाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। सभी सरकारी चिकित्सकों को समय पर आने के निर्देश दिए गए हैं। इमरजेंसी में भी चौबीसों घंटे डॉक्टर की मौजूदगी सुनिश्चित की गई है। अस्पतालों में आवश्यक दवाइयां उपलब्ध रहे, इसके लिए निगरानी टीम बनाई गई है। सरकारी अस्पतालों में पीने का स्वच्छ पानी, साफ-सफाई में कमी पाए जाने पर कार्रवाई की जा रही है। मोदी सरकार के आठ साल पूरे होने पर भाजपा की ओर से आयोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला के तहत बूथ सशक्तिकरण कार्यक्रम में पहुंचे उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक से युग करवट ने खास बातचीत की।
ब्रजेश पाठक ने कहा कि सीएचसी और जिला अस्पतालों में कार्यरत सभी कर्मचारी समय पर पहुंचे इसके लिए रजिस्टर रखा गया है। पहले रेफर के मामले में गड़बड़ी पाई जाती थी। जरूरत नहीं होने पर भी दूसरे अस्पतालों में रेफर कर दिया जाता था। अब ऐसा नहीं हो पाएगा। रेफर के लिए डॉक्टर को कारण बताना पड़ेगा। बगैर कारण बताए रेफर नहीं होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की 95 प्रतिशत लोग सरकारी अस्पतालों में इलाज कराते हैं। जिस कारण सरकारी अस्पतालों में भारी दबाव है। एक दिन में डाक्टर को पांच से छह हजार मरीज देखने पड़ते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी चिकित्सक चिकित्सा सेवाओं को बेहतर बनाने के सरकार की कोशिशों में सहयोग कर रहे हैं।
उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से सुपर स्पेश्यालिटी हॉस्पिटल का निर्माण कराया जा रहा है। गाजियाबाद में जनरल वी के सिंह के प्रयासों से यहां भी सुपर स्पेश्यालिटी अस्पताल का काम जल्द शुरू होगा। ब्रजेश पाठक ने कहा कि प्रदेश के हर जिले में मेडिकल कॉलेज बनाने का काम जारी है। कई जिलों में मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार है। और बाकी जिलों में भी एक दो साल में कॉलेज बनकर तैयार हो जाएगा। एंबुलेंस सेवाओं के संबंध में पूछे जाने पर उप मुख्यमंत्री ने कहा कि 108 एंबुलेंस सेवा में रिस्पॉन्स टाइम को कम करने के निर्देश दिए गए। पिछले कुछ माह में एंबुलेंस सेवा से जुड़ी शिकायतें कम आई है। ब्रजेश पाठक ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि 108 एंबुलेंस सेवा से संबंधित जो भी शिकायतें आएगी, उनका तुरंत निस्तारण होना चाहिए और इसके लिए जो भी जिम्मेदार है, उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।
कानपुर दंगों को लेकर पूछे गए सवालों के जवाब में उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उपद्रवियों ने दुकान बंद कराने लगे। कुछ दुकानदारों के विरोध के बाद पत्थरबाजी होने लगी। डेढ़ घंटे में ही उपद्रवियों पर काबू पा लिया गया।
कानपुर में हुए उपद्रव पर सपा नेता अखिलेश यादव की टिप्पणी पर ब्रजेश पाठक ने कहा कि उन्होंने सपा नेता को जवाब दे दिया है। यह योगी आदित्यनाथ की सरकार है। यह दंगा करने वालों से कैसे निपटा जाता है, यह सभी जानते हैं। दंगाइयों पर गैंगस्टर के तहत कार्रवाई होगी, उनकी संपत्ति जब्त होगी और उनके घरों पर बुल्डोजर भी चलेगा। ब्रजेश पाठक ने कहा कि कानपुर में हुए उपद्रव में 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कानपुर में अब पूरी तरह शांति है।