ग्रेटर नोएडा (युग करवट)। यमुना प्राधिकरण के अधिकारियों के अश्वासन के बाद किसान एकता संघ का अनिश्चितकालीन धरना समाप्त हो गया। किसान एकता संघ के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रमेश कसाना ने बताया कि किसान 64.7 फीसदी अतिरिक्त मुआवजे व आबादी निस्तारण तथा अन्य समस्याओं को लेकर क्षेत्र के किसान काफी लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर यमुना प्राधिकरण के चक्कर काट-काट कर थक चुके है। उन्होंने बताया कि एसीओ मोनिका रानी, एसीओ रविन्द्र सिंह, ओएसडी शैलेन्द्र भाटिया, तहसीलदार विनय भदौरिया, एसीपी महेन्द्र सिंह के बीच वार्ता हुई। वार्ता के दौरान एक अक्टूबर से क्षेत्र में मुआवजा वितरण करने के लिए लिखित में संगठन को एक पत्र दिया गया। तब जाकर अधिकारियों के अनुरोध पर किसान एकता संघ ने धरना समाप्त किया।