युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। नगर आयुक्त को सुबह छह बजे अपने बीच देख लोग चौंक गए। लोगों को उम्मीद नहीं थी कि कोई अधिकारी इतनी सुबह उनके बीच भी आ सकते हंै। नगर आयुक्त सबसे पहले वसुंधरा सेक्टर एक पहुंच गए। उस समय सुबह के छह बजे थे। वहां पार्क में लोग मॉर्निंग वॉक कर रहे थे। अचानक से नगर आयुक्त भी वहां मॉर्निंग वॉक करने लगे। साथ ही लोगों से शहर में चल रहे स्वच्छता के अभियान का फीडबैक भी लेने लगे। काफी लोगों ने नगर आयुक्त को बताया कि शहर में सफाई की क्या स्थिति चल रही है। नगर आयुक्त को जिस तरह से लोगों ने खुलकर स्वच्छता के बारे में बताया उससे आयुक्त भी खुश नजर आए।
निगम में स्वच्छ सर्वेक्षण का दौर चल रहा है। शहर में स्वच्छता का जायजा लेने के लिए कभी भी शहर में शहरी विकास मंत्रालय की टीम आ सकती है। इसी के चलते अधिकारी सुबह ही निरीक्षण पर निकल रहे है। मगर इस मामले में नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर सबसे आगे है। वह सुबह छह बजे ही शहर में निरीक्षण पर निकल जाते है। आज सुबह नगर आयुक्त ने वसुंधरा सेक्टर एक, वार्ड 96, आनंद इंउस्ट्री एरिया, नई बस्ती मशाल चौक, विजयनगर, सिटी जोन के कई एरिया का निरीक्षण किया।
इस दौरान नगर आयुक्त ने कुछ जगह कूड़ा पड़ा देखा तो हेल्थ विभाग के अधिकारियों की क्लास भी ली। नगर आयुक्त का निर्देश है कि किसी भी सूरत में शहर में कूड़ा पड़ा होने का प्रचलन पूरी तरह से बंद होना चाहिए। इस दौरान नगर आयुक्त ने शहर में चल रही सफाई व्यवस्था का भी जायजा लिया। नगर आयुक्त ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सफाई व्यवस्था में किसी भी तरह की कोताही बरदास्त नहीं की जाएगी। स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए इस दौरान नगर आयुक्त ने लोगों को भी जागरूक किया। नगर आयुक्त के साथ इस दौरान पार्षद अनिल स्वामी, अपर नगर आयुक्त अरूण यादव, हेल्थ अफसर डॉ. मिथलेश कुमार आदि मौजूद रहे।