युग करवट संवाददाता
मेरठ/गाजियाबाद। आज सुबह भी परतापुर थाना क्षेत्र में मेरठ एक्सप्रेस-वे पर हुए एक दर्दनाक हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई। यह हादसा उस समय हुआ जब एक ब्रेजा कार ट्रक से टकरा गई। कार की रफ्तार कितनी तेज रही होगी, इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि हादसे में ट्रक से हुई टक्कर के बाद जहां गाड़ी के परखच्चे उड़ गये वहीं कार में सवार एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। सड़क हादसे में जिन लोगों की मौत हुई है, वो अपने तीन परिजनों को दिल्ली एयरपोर्ट पर छोड़कर वापस लौट रहे थे।
एक्सप्रेस-वे पर परतापुर टोल के पास खड़े ट्रक से ब्रेजा कार टकरा गई। ब्रेजा में सवार चार महिला समेत पांच की मौके पर ही मौत हो गई। कार में सवार सात माह का बच्चा बच गया है। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से भाग गया। इंस्पेक्टर शैलेंद्र प्रताप पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। मृतक के परिवार को मामले की सूचना दी गई है। सभी मृतक बिजनौर के रहने वाले हैं।
बिजनौर के मोहल्ला मिर्दगान में रहने वाले जहीर खान दुबई में फर्नीचर का काम करते हैं। कोरोना में लॉकडाउन की वजह से घर आए हुए थे। सोमवार को उनकी दुबई के लिए फ्लाइट थी। जहीर और उनके बेटे समेत तीन लोगों को छोडऩे के लिए परिवार के सदस्य ब्रेजा और स्विफ्ट में सवार होकर एयरपोर्ट गए थे। वहां से लौटते समय एक्सप्रेस-वे पर परतापुर टोल के पास ब्रेजा के चालक ताजिम निवासी बिजनौर को नींद की झपकी आ गई जिससे टोल के पास साइड में खड़े ट्रक में पीछे से ब्रेजा कार टकरा गई। हादसे को देखकर लग रहा है कि ब्रेजा की स्पीड सौ से ज्यादा होगी।
बच गया सात माह का बच्चा
ब्रेजा में जहीर की बेटी अलमास उसका पति गुलशन, छोटी बेटी फाजिला, सास नसीमा खातून पत्नी शाहिद और भाई की बेटी जुबेरिया पुत्री जमील सवार थी। हादसे में पांचों लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। अलमास की गोद में सात माह का उसका बेटा उमेर था जिसकी जान बच गई है।