युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। बीती रात लोनी बॉर्डर थाने के एसएचओ सचिन कुमार व एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा की एसओजी टीम को उस समय सफलता हाथ लगी, जब मूवी मैजिक हॉल के पास गौकशों के साथ हुई मुठभेड़ में तीन बदमाशों को पुलिस की गोली लगने के बाद चार गौकश पुलिस के हत्थे चढ़ गये। एक ही समय दो बार हुई मुठभेड़ के दौरान राजेश नामक आरक्षी भी गौकसों की गोली लगने से घायल हो गया। मुठभेड़ में घायल हुए तीनों गौकशों व आरक्षी को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाकर मौके से एक छोटा हाथी, तमंचे और कई गाय और बछड़ा बरामद कर लिया। इस संदर्भ में एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने बताया कि पूछताछ के दौरान घायल गोकस चंद्रशेखकर निवासी मुलसम थाना दोघट बागपत व गौरव निवासी जोरीपुर दिल्ली ने स्वीकार किया वो लावारिस गायों व गौवंश को सडक़ों या जंगलों से उठाकर दिल्ली ले जाकर काट अथवा कटवा देते थे। पुलिस से बचने के लिये वे गायों को गऊशाला पहुंचाने की बात कहकर गुमराह करके दिल्ली निकल जाते थे। श्री राजा का कहना है कि पूछताछ के दौरान चंद्रशेखर ने बताया कि उसके गैंग के कुछ साथी कुछ दूरी पर खड़े हैं। इस सूचना के मिलते ही पुलिस टीम ने जब उन गौकशों को सरेंडर करने के लिये कहा तो उन्होंने भी गोली चला दी। जवाबी कार्रवाई में काकू उर्फ लकी निवासी संगम विहार लोनी शुभम उर्फ सोने निवासी हरियाणा को भी पुलिस की गोली लगी।