नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। श्री श्री १००८ शिव हनुमान मंदिर सेवा समिति ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर मिथिला विहार मौहल्ले का नाम न काटने की मांग की है। स्थानीय लोगों ने कहा कि वर्ष १९९० को मिथिलेश्वर नाथ महादेव की स्थापना की गई थी। सभी दस्तावेजों पर भी मिथिला विहार का पता अंकित है और मतदान केन्द्र पर भी यही नाम लिखा है। इस केन्द्र पर ८०० वोटर पंजीकृत हैं, लेकिन अब इस केन्द्र का नाम काटने का प्रयास किया जा रहा है। स्थानीय लोगों ने कहा कि अगर नाम काटने का प्रयास किया तो वे आंदोलन करेंगे। ज्ञापन देने वालों में अध्यक्ष सदानंद ठाकुर, अजय कुमार, जयद्रथ मिश्र, हरि नारायण, देवी शरण, पशुपतिनाथ झा, सुनीता, योगेन्द्र कुमार, प्रभुनाथ आदि मौजूद रहे।