नई दिल्ली। पंजाब के मोगा शहर में गुरुवार देर रात भारतीय वायु सेना का मिग-21 लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जिसमें मेरठ गंगानगर के निवासी फायटर पायलट अभिनव चौधरी की मृत्यु हो गई है। वह मूल रूप से बागपत के पुसार गांव के रहने वाले हैं।
दिवंगत फाइटर पायलट का परिवार लंबे समय से मेरठ में ही रह रहा था। यह खबर आते ही परिवार पर दुख का कहर टूट पड़ा। 25 दिसंबर 2019 को हो अभिनव की शादी धूम धाम से मेरठ में ही हुई थी।
एक रुपए में सगाई की थी वायु सेना में फायटर पायलट और किसान के पुत्र अभिनव ने एक रुपये में लगन सगाई संपन्न कर दहेज लोभियों को करारा तमाचा जड़ा था। युवा अधिकारी ने दहेज को इंकार कर अपने जीवन की महत्वपूर्ण पारी डेढ़ साल पहले ही शुरु की थी। करोड़ों के रिश्ते ठुकराकर युवा लेफ्टीनेंट के परिवार ने पूरे समाज को एक सकारात्मक संदेश दिया था। लेफ्टिनेंट अभिनव चौधरी वायु सेना में मिग 21 का फायटर पायलट थे। वह उस समय पठानकोट एयरबेस में तैनात थे। अभिनव चौधरी ने आरआइएमसी देहरादून में कक्षा 12 उत्तीर्ण की। इसके बाद उनका चयन एनडीए में हुआ। पुणे में तीन साल के बाद हैदराबाद के एएफए में वायु सेना की ट्रेनिंग पूरी की। अभिनव की मां सत्य चौधरी गृहिणी हैं, जबकि एक छोटी बहन मुद्रिका चौधरी है।