युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। मास्टर प्लान 2031 के लिए अब आपत्ति और सुझाव मांगे जाएंगे। इसके लिए जीडीए जल्दी ही नोटिफिकेशन जारी करेगा। मास्टर प्लान 2031 का ड्राफ्ट तैयार हो गया है। गाजियाबाद जिले का मास्टर प्लान अमृत योजना के तहत करीब दो करोड़ रुपये की लागत से बनाया जा रहा है। जिले का मास्टर प्लान कई पार्ट में बन रहा है। मास्टर प्लान मोदीनगर- मुरादनगर, गाजियाबाद, लोनी, और गाजियाबाद के आसपास के एरिया जैसे हाईटैक सिटी और डासना मसूरी का मास्टर प्लान तैयार कराया जा रहा है। केंद्र सरकार पहली बार प्राइवेट कंसलटेंट कंपनी के माध्यम से मास्टर प्लान को तैयार करा रही है। जिले का यह पहला जीआईएस बेस मास्टर प्लान है। इस मास्टर प्लान को तैयार करने से पहले जीडीए ने कई प्रबुद्घ वर्ग के लोगों से राय ली थी। बावजूद इसके फिर भी मास्टर प्लान में कई तरह की खामी रह सकती है। इसी को लेकर मास्टर प्लान का ड्राफ्ट तैयार कर उसे बोर्ड की बैठक में पेश किया गया था।