नई दिल्ली (युग करवट)। लोकसभा चुनाव अपने आखिरी दौर में है। एक जून को अंतिम चरण की वोटिंग होगी। उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कन्याकुमारी में समंदर के बीचोबीच साधना में लीन हो जाएंगे। पीएम मोदी कन्याकुमारी में ध्यान मग्न होने की तैयारी कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि वो विवेकानंद रॉक मेमोरियल पर ध्यान करेंगे। पिछले कुछ समय से धुआंधार चुनाव प्रचार और रैलियों में लगे पीएम मोदी अब शांति और साधना में लीन हो जाएंगे। बताया जा रहा पीएम मोदी उसी शिला पर ध्यान लगाएंगे जिस शिला पर विवेकानंद ध्यानरत रहे थे। विवेकानंद रॉक मेमोरियल भारत के सबसे दक्षिणी सिरे कन्याकुमारी में एक स्मारक है, जो समंदर के तट से लगभग 500 मीटर दूर स्थित दो चट्टानों में से एक पर स्थित है। माना जाता है कि स्वामी विवेकानंद के जीवन में समंदर के बीच उभरी इस शिला का महत्व वही था जो गौतम बुद्ध के लिए सारनाथ का था। रॉक मेमोरियल पर ही ध्यानरत रहते स्वामी विवेकानंद ने विकसित भारत का सपना देखा था और यहीं पर विवेकानंद ने भारत माता की परिकल्पना की थी।