युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। हिंडन विहार स्थित हनुमान मंदिर में बड़े स्तर पर कथा के आयोजन को लेकर प्रशासन ने अनुमति ना लेने पर मंदिर के महंत मछेन्द्ररनाथ और सुरेश चव्हाणके को नोटिस जारी किया था। नोटिस जारी होने के बाद भी सुरेश चव्हाणके हनुमान मंदिर पहुंचे। कथा आयोजन के लिए मंदिर में डीजे भी लगाया गया। प्रशासन से नोटिस मिलने के बाद मंदिर के महंत ने मंदिर छोडऩे की चेतावनी भी अधिकारियों को दे डाली। नोटिस के बाद क्षेत्र में विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई थी। मंदिर में आयोजन होने की सूचना पर मौके पर पहुंचे एडीएम सिटी एसके सिंह ने डीजे को हटवा दिया और महंत को समझाया। समझाने के उपरांत मामला शांत हो सका। एडीएम सिटी ने बताया कि आयोजन की अनुमति नहीं थी, ऐसे में डीजे आदि हटवा दिया गया है और कोविड नियमों के तहत पूजा पाठ करने की अनुमति दी गई है। लोग कम संख्या में मंदिर पहुंच कर दर्शन कर रहे हैं। एडीएम सिटी ने कहा कि बड़े स्तर पर आयोजन की अनुमति नहीं होगी। महंत से वार्ता के बाद वह भी मंदिर न छोडऩे पर राजी हो गए हैं। हालांकि, एहतियात के तौर पर मंदिर के बाहर फोर्स तैनात की गई है।