युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। थाना पुलिस ने गंगनहर की पटरी पर हुए खूनी संघर्ष में मारे गये छोटा हरिद्वार मंदिर के सेवादार प्रवीन उर्फ परवीन सैनी की हत्या के मामले में आरोपित तीन हत्यारोयिों को गिरफ्तार कर लिया। इस संदर्भ में एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ेने बताया कि एसएचओ हरिओम सिंह की टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नितिन निवासी राधेश्याम कॉलोनी फेस-टू मुरादनगर, अश्वनी निवासी शिवं विहार व आकाश उर्फ कल्लू निवासी इंदिरापुरम कॉलोनी थाना परतापुर मेरठ को गिरफ्तार करके उनसे पूछताछ की। मुरादनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत छोटा हरिद्वार के पास गंगनहर की पटरी खाना खाने को लेकर मंदिर के सेवादारों एवं खाना खा रहे तीन युवकों में झगडा हो गया। कुछ ही देर में दोनों पक्षों के एक दर्जन से अधिक युवकों में लाठी-डंड़े व सरिये चलने लगे। इस खुनी संघर्ष में जहां दोनों पक्षों के आधा दर्जन से अधिक युवकों को चोटें आई वहीं मंदिर की व्यवस्था के तहत काम करने वाले प्रवीन सैनी उर्फ परवीन की हत्या हो गई। इसके बाद कुछ शरातरती तत्वों ने उक्त संघर्ष को दो संप्रदायों का बताकर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाडऩे के लिये सोशल मीडिया एवं माध्यमों से दुष्प्रचार भी किया गया। स्थिति को बिगडती देख पुलिस प्रशासन भी अलर्ट हो गया। जिसके बाद पुलिस ने न केवल मृतक युवक के परिजनों की तहरीर पर हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया वहीं सांप्रदायिक सौहार्द बिगाडऩे वालों के खिलाफ भी अभियान शुरू कर दिया। इस संदर्भ में एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने बताया कि प्राथमिक जांच में ऐसा कोई साक्ष्य सामने नहीं आया है कि जिससे यह साबित हो कि गंगनहर की पटरी पर दूसरे संप्रदाय के लोग शराब पी रहे थे अथवा मांस का सेवन कर रहे थे।