नोएडा (युग करवट)। देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया गया। बीती मध्य रात्रि 12 बजते ही मंदिरों, सोसायटियों में भगवान श्री कृष्ण के जन्म पर घंटे, घडिय़ाल, ढोल नगाड़े बज उठे और शंखनाद के साथ मंगल ध्वनि गूंजने लगी। जन्म के पश्चात पूरे विधि विधान से ठाकुर जी का अभिषेक कर उन्हें भोग लगाया गया। सनातन धर्म मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने भी हिस्सा लिया। उन्होंने मंदिर पहुंचकर कान्हा जी को झूला झुलाया और आशीर्वाद लिया। श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर सेक्टर-33 स्थित इस्कॉन मंदिर, सेक्टर-19 स्थित सनातन धर्म मंदिर, सेक्टर-56 स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर, सेक्टर-12 स्थित सिद्ध पीठ कलरिया बाबा मंदिर, वोडा महादेव मंदिर, सेक्टर-22 स्थित शिव मंदिर सहित सभी मंदिरों को आकर्षक तरीके से सजाया गया था। कोरोना के कारण इस्कॉन मंदिर में भक्तों को प्रवेश नहीं दिया गया बल्कि ठाकुर जी के दर्शन के लिए मंदिर प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन व्यवस्था की गई थी। इसके बावजूद भी देर रात तक इस्कॉन मंदिर के बाहर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटी रही। वही सनातन धर्म मंदिर में कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन करते हुए श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया गया। मंदिरों में श्रद्धालुओं ने ठाकुर जी को झूला झुलाया और पूजा अर्चना की। मंदिरों के अलावा विभिन्न सेक्टर और सोसाइटियों में भी जन्माष्टमी का पर्व पूरे हर्षोल्लास के साथ धूमधाम से मनाया गया। नन्हे-मुन्ने बच्चों ने श्री कृष्ण और राधा का वेश धारण कर मनमोहक प्रस्तुतियां दी। रात्रि के 12 ही मंदिरों, सेक्टरों व सोसाइटियों में हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की मधुर ध्वनियाँ गूंज उठी। श्रद्धालुओं ने पूरे उत्साह के साथ मंगल गीत गाते हुए भगवान श्री कृष्ण का जन्म उत्सव मनाया। जन्मोत्सव के पश्चात ठाकुर जी को भोग लगाने के बाद श्रद्धालुओं में प्रसाद का वितरण किया गया। जन्माष्टमी को लेकर शहर के मंदिरों के बाहर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम रहे।