नई दिल्ली। कन्याकुमारी से शुरू हुई राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा शनिवार सुबह फरीदाबाद से होते हुए बदरपुर बॉर्डर के रास्ते दिल्ली में प्रवेश कर गई। इस दौरान दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी और यात्रियों का बदरपुर बॉर्डर पर जोरदार स्वागत किया। लेकिन मंच पर कुव्यवस्था को देखकर राहुल प्रदेश अध्यक्ष पर भडक़ गए। इसके बाद मंच पर मौजूद कुछ कार्यकर्ताओं को आनन-फानन में हटाया। इस यात्रा में पार्टी के नेताओं के साथ हजारों की संख्या में कार्यकर्ता भी चल रहे हैं। राहुल का काफिला बदरपुर से चलकर अपोला अस्पताल, आश्रम, निजामुद्दीन इंडिया गेट, आईटीओ, दिल्ली गेट, दरियागंज और अंत में लाल किला पहुंचेगी। यह यात्रा बदरदुर से शुरू होकर शाम को लाल किला पर समाप्त होगी। इससे पहले करीब साढ़े दस बजे आश्रम चौक पर यात्रियों ने कुछ देर के लिए विश्राम किया। यहां पर यात्रा में शामिल पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं के लिए जलपान व भोजन की व्यवस्था प्रदेश कांग्रेस की तरफ से की गई थी। यहां भी अव्यवस्था का आलम था जिसे देखकर पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्वजय सिंह ने असंतोष व्यक्त किया। उन्होंने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली से कहा कि व्यवस्था ठीक नहीं है। इस बीच ओखला से कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान अपनी नवविर्वाचित पार्षद बेटी के साथ जयराम आश्रम पहुंचे तो वह पटपटगंज के जिला अध्यक्ष पर भडक़ गए। उन्होंने कहा कि जब हम लोगों को पास जारी किया है तो इस यात्रा में शामिल होने के लिए यात्रा में शामिल क्यों नहीं होने दिया जा है। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें ही नहीं आम लोगों को भी यात्रा में शामिल होने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।