लोकसभा चुनाव-२०२४
२०१४ से लेकर २०१९ तक जिस तरह भाजपा ने जो कहा वो किया का अहसास विपक्ष को पहले ही करा चुकी है। अब भाजपा ने २०२४ के लोकसभा चुनाव को लेकर जो नारा दिया है ‘अबकी बार मोदी सरकार तीसरी बार और चार सौ पार’। इस नारे ने विपक्षी दलों की नींद उड़ा दी है। जाहिर है कि जिस तरह का माहौल है उससे यही लगता है कि ये नारा कहीं ना कहीं खरा उतरेगा। दरअसल भाजपा हमेशा भगवान श्री राम को लेकर आगे बढ़ती है और भगवान श्री राम ने ही 2०१४ और २०१९ में सरकार बनवाई थी और अब तो २२ जनवरी को वो होने जा रहा है जिसको लेकर भाजपा की राजनीति चलती है। इसलिए अब तो पूरी तरह से भगवान श्रीराम का आशीर्वाद भाजपा को मिलेगा और जो नारा भाजपा ने दिया है अबकी बार चार सौ पार वो भी भगवान श्री राम ही पार लगाएंगे। मैंने इसी कॉलम में कई बार लिखा है कि पूरे देश राममय माहौल में होगा और वो दिखाई भी दे रहा है। एक जनवरी से जिस तरह कार्यक्रम शुरू हो रहे हैं। २२ फरवरी तक जारी रहेंगे और उससे आगे भी ये कार्यक्रम चलेगा। भाजपा का हर कार्यकर्ता और नेता अब केवल और केवल २२ जनवरी को लेकर तैयारी कर रहा है। इसमें कोई दोराय नहीं कि पूरा माहौल राममय है। २०२४ के लोकभा चुनाव को लेकर ये अटकले लगाई जा रही थी कि जो विपक्ष का गठबंधन इंडिया गठबंधन बन रहा है। वो जरूर कुछ गुल खिलायेगा लेकिन मैंने यही लिखा था गठबंधन आपस में ही उलझकर रह जायेगा और भगवान श्रीराम इस बार भी भाजपा की नैया पार लगाएंगे। यही कॉन्फिडेंस भाजपा के हर कार्यकर्ता के मन में है। जाहिर है कि आज तक सभी दलों ने भगवान श्रीराम पर राजनीति की। भाजपा ने भी की आज जो कुछ भी हो रहा है, जितना उत्साह है वो भी कहीं ना कहीं भाजपा कार्यकर्ताओं की ही जीत है। बहरहाल चार सौ पार का नारा जरूर विपक्ष के लिए नींद उड़ाने वाला है। जय हिंद