युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के सांसदों के साथ भाजपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष जेपी नडडा की बैठक इस सहमति के साथ खत्म हुई कि 2022 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में भाजपा ब्रांड मोदी नहीं, बल्कि ब्रांड योगी के सहारे से उतरेगी। बैठक के दौरान सभी सांसदों को एक किताब बांटी गई जिसमें योगी आदित्यनाथ सरकार की उपलब्धियों का ब्यौरा है। सांसदों से अपने अपने क्षेत्रों में इस किताब का प्रचार करने को कहा गया है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भाजपा के शीर्ष नेता यानि प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, राष्टï्रीय अध्यक्ष जेपी नडडा प्रचार तो करेंगे लेकिन पार्टी योगी सरकार के कामकाज के आधार पर ही वोट मांगेगी। इस बार यूपी चुनाव में ब्रांड मोदी की जगह ब्रांड योगी को लोगों के बीच ले जाया जाएगा।
जेपी नड्डा ने सभी सांसदों को एक किताब दी। इस किताब में योगी को कर्मयोगी के रूप में प्रोजेक्ट किया गया है जिसमें उनके विचार दर्शन और यूपी सरकार की उपलब्धियां/ जनकल्याण योजनाओं को विस्तार से बताया गया। सांसदों को कहा गया कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर योगी सरकार की उपलब्धियों से लोगों को रूबरू कराए।
इसी के साथ अब यह स्पष्ट है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा योगी के कंधों पर सवार होकर मैदान पर उतरेगी। किताब में योगी सरकार की फ्लैगशिप वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट योजना का विशेष रूप से जिक्र किया गया है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ और उनकी सरकार के कोविड संकट से निपटने के प्रयासों की सार्वजनिक मंच से जमकर तारीफ की थी। उसी दिन वे तमाम अफवाहें एक सिरे से खारिज हो गई थी जिसमें यूपी भाजपा और राज्य सरकार के नेतृत्व में बदलाव को लेकर कयास लगाए जा रहे थे। सूत्रों के मुताबिक, नड्डा ने सभी सांसदों को वैक्सीनेशन प्रोग्राम को गति देने के लिए राज्य सरकार की मदद करने को कहा। गुरुवार को हुई बैठक में अगले साल होने वाले चुनाव में मुख्य चेहरे के रूप में योगी की इमेज और अधिक मजबूत हुई है जिस पर विपक्ष के लगातार हमले के बावजूद पार्टी दांव लगाएगी।
जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे नए मंत्री
इस बैठक में तय हुआ कि 16 से 18 अगस्त तक यूपी से केंद्र में बने सातों मंत्री जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे। आशीर्वाद यात्रा के जरिए नए मंत्री जनता से अपना मेल-जोल बढ़ाने के साथ ही विपक्ष का जनता से संबंध बिगाड़ेंगे की रणनीति भी साधेंगे। इसके अलावा सांसदों को 5 अगस्त को अन्न महोत्सव में भी बढ़चढ़ कर भागीदारी करने को कहा गया है। गुरुवार को काशी समेत चार जोन के 44 सांसदों से जेपी नड्डा ने चर्चा की। इस चर्चा में विधायकों की छवि पर भी बात हुई।