गाजियाबाद। 21 मई को होने जा रही विशेष बैठक में अजैंडे को लेकर विवाद हो सकता है। पहले ही कई पार्षदों ने स्पष्टï कर दिया कि अगर बजट की स्पेशल बैठक में कोई सामान्य प्रस्ताव पेश होता है तो उसका विरोध किया जाएगा। इस मामले को लेकर लगता है कि बोर्ड में हंगामा हो सकता है। इस मामले में मेयर आशा शर्मा भी चुप्पी साधे हुए है।
बीजेपी पार्षद राजेन्द्र त्यागी, हिमांशु मित्तल आदि कई पार्षद इस प्रकरण को लेकर तेवर दिखा रहे है। इन पार्षदों का कहना है कि निगम एक्ट में प्रावधान है कि अगर किसी बैठक में बजट पेश होता है तो वह विशेष बैठक होती है। विशेष बैठक में बजट के अलावा अन्य कोई प्रस्ताव पेश नहीं किया जा सकता है। निगम के अधिकारी इस मामले में खुलकर बोलनेे को तैयार नहीं है। मगर नाम नहीं छापने की शर्त पर निगम के एक अधिकारी ने बताया कि 21 को होने वाली बोर्ड की बैठक के लिए जो अजैंडा जारी किया गया है उसमें वह प्रस्ताव शामिल है जो नगर निगम कार्यकारिणी में पहले ही पास हो चुके है।