बेटी बचाओ अभियान के तहत वितरित की बेटियों के नाम की नेमप्लेट
युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। अब लोगों के आवास पर बेटियों के नाम की नेमप्लेट लगी दिखाई देगी। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत आज जिला मुख्यालय में आवास पर लगाने के लिए बेटियों के नाम की नेमप्लेट वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। डीएम आरके सिंह और सीडीओ अस्मिता लाल ने अभिभावकों के नाम की नेमप्लेट और प्लांट वितरण किया और बेटियों को प्रोत्साहित करने की अपील की।
इस अवसर पर डीएम आरके सिंह ने कहा कि बेटियां जिम्मेदार और संवदेनशील होती हैं। बस जरूरत है उन्हें प्रोत्साहित करने की ताकि वह अपने भविष्य और अपने सपनों को साकार कर सकें। आज हर क्षेत्र में बेटियां बेटों से कदम से कदम मिलाकर चल रही हैं। १५ साल पहले तक स्थितियां ऐसी नहीं थीं लेकिन अब धीरे-धीरे समाज में जागरूकता आ रही है और बेटियों को मिल रहे प्रोत्साहन से वह अपने परिवार और देश का नाम रोशन कर रही हैं। सीडीओ अस्मिता लाल ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत बेटियों को प्रोत्साहित करने के लिए अभिभावकों के आवास पर उनके नाम की नेमप्लेट लगाने की मुहिम शुरू की गई है। इससे उन अभिभावकों को भी प्रोत्साहन मिलेगा जो बेटियों के होने पर दुख मनाते हैं। अगर बेटियों को बढ़ावा दिया जाए तो वह अपने साथ-साथ अपने परिवार और समाज का भी नाम उज्जवल करती हैं। कार्यक्रम के दौरान डीएम आरके सिंह को उनकी बेटी प्रीति सिंह के नाम की नेमप्लेट दी गई। डीएम ने कहा कि वह इसे अपने आवास पर लगाएं ताकि लोगों को संदेश मिल सके। इसके अलावा एसीएम खालिद अंजुम को तीन बेटियों के नाम की नेमप्लेट, सीवीओ महेश कुमार, डीडीओ बीसी त्रिपाठी, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी अजय तायल, पीडीडीआरडीए पीएन दीक्षित, हरवीर सिंह, सहदेव, परविंदर कुमार, गफरुद्दीन, संजीव वर्मा, दीपक सिरोही, सुमित शिशौदिया, प्रवीन त्यागी, जितेंद्र कुमार, लोकेंद्र ंिसंह व नेहा वालिया को उनकी बेटी के नाम की नेमप्लेट और प्लांट वितरित किए गए। इस दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी विकास चंद्र ने अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी दी।