युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कविनगर रामलीला मैदान में विजयादशमी पर्व पर समिति द्वारा सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया। इसके उपरांत प्रतीकात्मक रूप से रावण, कुंभकर्ण व मेघनाथ के पुतले का दहन किया गया। प्रदेश के स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने रावण सहित तीनों के पुतलों का दहन किया और दर्शकों को विजयादशमी पर्व की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बुराई कितनी भी बलवान क्यों न हों लेकिन एक दिन उसकी हार जरूर होती है। असत्य पर सत्य की जीत का यह पर्व इसलिए हर वर्ष मनाया जाता है ताकि लोगों को सीख मिल सके कि अपने मन से बुराई को दूर रखें। कोरोना संक्रमण के चलते कविनगर रामलीला मैदान में इस बार भी मेले और मंचन का आयोजन नहीं किया गया था और प्रतीकात्मक रूप से रावण दहन किया गया। समिति के अध्यक्ष ललित जायसवाल ने बताया कि इस दौरान कोविड-19 के नियमों का पालन किया गया। इससे पूर्व सुंदरकांड किया गया व डिजीटल पर रामायण के प्रमुख प्रसंगों का प्रसारण भी किया गया।