युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जनपद में बदमाश कितने बेखौफ हो गये हैं, इसका जीता जागता प्रमाण उस समय मिल गया जब हथियारबंद बदमाशों ने लोनी थाना क्षेत्र के टोली मौहल्ला में रहने वाले कपड़ा कारोबारी ७० वर्षीय रहीसुदï्दीन के मकान, जिसके ग्राउंड फ्लोर पर उनका कपड़े का शोरूम भी है, पर ३-४ बजे के करीब धावा बोलकर लूटपाट शूरू कर दी। लूट का विरोध होने पर बदमाशों ने रहीसुदï्दीन, उनकी पत्नी ६५ वर्षीय फातिमा बेगम, ३१ वर्षीय पुत्र अजहर उर्फ अजहरुदï्दीन उर्फ अज्जू और छोटे पुत्र २८ वर्षीय इमरान पर गोलियों की बरसात कर दी। इस घटना में कपड़ा कारोबारी रहीसुदï्दीन व उनके दोनों बेटों की गोली लगने से मौत हो गई और उनकी पत्नी भी मौत के मुंहाने पर पहुंच गईं। इस सनसनीखेज लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद जब बदमाश घटनास्थल से फरार हो गये, तब उनके भाई जो सपा के जिलाध्यक्ष राशिद मलिक के ससुर भी लगते हैं, ने पुलिस को सूचना दी। ट्रिपल मर्डर और लूट की सूचना मिलते ही पुलिस के होश उड़ गये। कुछ ही देर में जहां लोनी थाने के एसएचओ ओमप्रकाश सिंह पुलिस टीम के साथ पहुंच गये वहीं डीआईजी अमित पाठक व एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा के अलावा सीओ लोनी अतुल सोनकर भी डॉग स्क्वॉड व फोरेंसिंक टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंच गये। इसके बाद पुलिस ने हर ऐंगल को ध्यान में रखकर उक्त सनसनीखेज वारदात की गहन जांच शुरू कर दी। इस वारदात के संदर्भ में डीआईजी अमित पाठक ने बताया कि ट्रिपल मर्डर के खुलासे के लिये पुलिस की कई टीम बनाई गई हैं। श्री पाठक ने बताया कि प्राथमिक जांच के दौरान ऐसे कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिले हैं जिनसे यह पता चल सके कि कपड़ा कारोबारी के यहां लूटपाट हुई है।
पुलिस ने खंगाली
सीसीटीवी की फुटेज
गाजियाबाद। बीती रात कपड़ा कारोबारी के यहां हुई खूनी लूट, जिसमें बेखौफ बदमाशों ने कपड़ा कारोबारी रहीसुदï्दीन व उनके दो पुत्रों अजहर व इमरान की हत्या कर दी थी व उनकी पत्नी फातिमा बेगम को भी गोली मारकर मौत के मुंहाने पर पहुंचा दिया था, के खुलासे के लिये पुलिस ने जहां डॉग स्क्वॉड और फोरेंसिंक टीम का सहारा लिया वहीं घटनास्थल के आसपास लगे सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाली।
आईजी ने भी किया
घटनास्थल का दौरा
लोनी थाना क्षेत्र के टोली मौहल्ला में हुई सनसनीखेज वारदात की सूचना मिलते ही मेरठ जोन के आईजी राजीव सब्बरवाल ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर पूरी वारदात का मौका मुआयना किया। इस अवसर पर श्री सब्बरवाल ने कहा कि इस वारदात का खुलासा शीघ्र ही कर दिया जायेगा।
क्षेत्र में चर्चा की वारदात के पीछे हो सकता है कोई अपना
बीती रात टोली मौहल्ला में रहने वाले कपड़ा कारोबारी व उनके दो पुत्रों की हत्या के पीछे कोई अपना तो नहीं, इस बिंदू को लेकर घटनास्थल वाले इलाके में रहने वाले लोग चर्चा कर रहे थे। लोगों के बीच हो रही चर्चा में लोग यह कहते भी दिखाई दिए कि बदमाशों का मकसद लूटपाट करना नहीं बल्कि पिता- पुत्रों व कपड़ा कारोबारी की पत्नी की हत्या करना था। अमित पाठक ने कहा कि कई सुराग ऐसे मिले हैं जिनकी बिन्हा पर यह कहा जा सकता है कि वारदात का खुलासा जल्द हो जायेगा। सूत्रों की मानें तो पुलिस आज शाम तक भी वारदात का खुलासा कर सकती है।