युग करवट संवाददाता
मोदीनगर। केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन को मजबूत करने के लिए सहारनपुर से गाजीपुर तक ट्रैक्टर रैली निकाली गई। आज यह रैली गाजियाबाद से गुजरी। भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत की अगुवाई में बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टरों में सहारनपुर से दिल्ली के गाजीपुर पहुंचे। किसान यात्रा का जगह जगह जोरदार स्वागत किया जा रहा है। इस दौरान नरेश टिकैत ने कहा कि सरकार पूरी तरह से गूंगी और बहरी हो चुकी है। इसे किसानों और देश की जनता की आवाज सुनाई नहीं दे रही है। इसी कारण आंदोलन के बावजूद सरकार किसानों की बात मानने को तैयार नहीं है।
नरेश टिकैत ने कहा कि देश का किसान कमजोर नहीं है। बीच के रास्ते हमेशा खुले हुए हैं, पर सरकार को अपनी जिद छोडऩी होगी। पिछले सात माह से गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के नेतृत्व में कृषि कानून के विरोध में धरना चल रहा है। 26 को टै्रक्टरों के साथ किसान दिल्ली में प्रदर्शन करेंगे।
उन्होंने कहा अभी मुजफ्फरनगर व सहारनपुर से ट्रैक्टर रैली निकाली गई है। अब शनिवार व रविवार को शामली, बागपत, हापुड़, गाजियाबाद आदि जिलों से ट्रैक्टर रैलियां निकाली जाएंगी और गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचेंगे। किसान यात्रा दोपहर करीब 12 बजे मोदीनगर पहुंची यहां कादराबाद में पवन कुमार उर्फ लालाराम और वेदपाल मुखिया के नेतृत्व में आगे आगे जीप में सवार होकर चल रहे नरेश टिकैत और गौरव टिकैत का स्वागत किया गया। इसके बाद राजचौराहा पर श्यामवीर सिंह, पप्पी नेहरा, चन्दर पहलवान, मनीष आदि के नेतृत्व में, मोदी मंदिर पर फफराना ग्राम प्रधान लीलू, विष्णु, अनिल पूनिया और योगेंद्र पतला के नेतृत्व में और काजमपुर गेट पर नेपाल सिंह, हरेंद्र नेहरा आदि के नेतृत्व में किसान यात्रा का जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान धूप और गर्मी में आंदोलन में शामिल होने जा रहे लोगों को शरबत और फल मिष्ठान आदि वितरित किए गए।