कार्यालय पहुंचे, लेकिन बैठक में नहीं शामिल हुए लोनी विधायक
युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जिला पंचायत की बोर्ड बैठक आज बिना किसी विवाद के सम्पन्न हुई। इस दौरान कोई हंगामे की स्थिति नहीं बनी। सर्वसम्मति से बैठक में पुराने प्रस्तावों को ही अनुमोदित करते हुए आय-व्यय सहित विकास कार्यों के लिए ३३ करोड़ का बजट पास किया गया। पिछली बैठक में हंगामा करने वाले लोनी विधायक नंद किशोर गुर्जर महज कुछ मिनट ही जिला पंचायत कार्यालय में रुके। इस दौरान वह बैठक में सम्मिलित नहीं हुए, उनके जाने के बाद शांतिपूर्ण तरीके से बैठक सम्पन्न हुई।
बता दें कि पिछली बैठक में लोनी विधायक नंद किशोर गुर्जर ने जिला पंचायत अध्यक्ष ममता त्यागी के पति व तीन अन्य महिला सदस्य के पति के मौजूद होने पर विरोध जताया था। इसके बाद बैठक में हंगामा बढ़ गया और सभी सदस्यों ने बैठक का वॉकआउट किया, जिसकी वजह से बैठक नहीं हो पाई थी। इस हंगामे के बाद शुक्रवार को फिर से बोर्ड बैठक हुई। हालांकि इस बार भी स्थिति पहले जैसी ही रही, लेकिन इस बार लोनी विधायक की ओर से कोई विरोध नहीं जताया गय इससे बैठक निर्विरोध चलती रही। इस दौरान सर्वसम्मति से सात प्रस्तावों पर सहमति बनी।
कुल ३३ करोड़ रुपए का बजट रखा गया जिसमें साढे सात करोड रुपए का बजट विकास कार्यों के लिए रखा गया। इस बजट में वेतन आदि अन्य मद भी शामिल किए गए हैं। विकास कार्याे में गांव सुराना में पानी निकासी के लिए नाला निर्माण,सकलपुरा में सडक निर्माण, समयपुर में रास्ता निर्माण, सकलपुरा में मूर्ति निर्माण, शहीद मेजर आशा राम त्यागी अस्पताल का जीर्णोद्घार, अमीपुर गांव में दो किलोमीटर लम्बी पक्की सडक सहित आठ प्रस्तावों पर सहमति बनी। बैठक में २४ में से १३ सदस्य शामिल हुए। हालांकि एक बार को बैठक स्थगित होती नजर आई क्योंक बोर्ड बैठक कराने के लिए सदस्यों का कोरम पूरा होता नहीं दिख रहा था, लेकिन विधायक धर्मेश तोमर के आने के बाद कोरम पूरा हुआ इसके बाद बैठक कराई गई। बैठक में मोदीनगर विधायक डॉ. मंजू सिवाच, विधायक धर्मेश तोमर, सीडीओ विक्रमादित्य सिंह मलिक, एडीएम सिटी बिपिन कुमार सहित दस पंचायत सदस्य मौजूद रहे।