युग करवट संवाददाता
नोएडा। हिंदू रक्षक सेना द्वारा बिना अनुमति के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो लगाकर 3 मई को थाना बादलपुर क्षेत्र की दूरीयाई गांव में स्थित एक बैंक्वेटहॉल में हिंदू समागम करने के मामले में पुलिस ने प्रांतीय उपाध्यक्ष सहित दो लोगों को आज गिरफ्तार किया है। पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही थी, जिसमें हिंदू रक्षक सेना के प्रांतीय उपाध्यक्ष प्रवीण चौधरी व अन्य लोगों से अपील कर रहे थे कि 3 मई को दुरियाई गांव में स्थित एक बैंकट हॉल में हिंदू समागम आयोजित किया जा रहा है। ये लोग इस आयोजन में हिंदुओं से भारी संख्या में भाग लेने की अपील कर रहे थे। उक्त वीडियो में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की भी फोटो लगाई गई थी। उन्होंने बताया कि जांच में यह बात संज्ञान में आई कि आयोजकों ने ना तो हिंदू समागम करने के लिए पुलिस या जिला प्रशासन से अनुमति ली है, ना ही मुख्यमंत्री कार्यालय से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की फोटो लगाने की अनुमति ली है। उन्होंने बताया कि इस मामले में थाना बादलपुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आयोजक प्रवीण चौधरी तथा राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि इस आयोजन से सांप्रदायिक सौहार्द बिगडऩे की संभावना बढ़ गई थी।