गाजियाबाद (युग करवट)। करीब 100 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होने वाले बायोसीएनजी प्लांट के लिए कंपनी को नगर निगम ने करीब 12 एकड़ जमीन पर कब्जा दे दिया है। इसके साथ ही अगले महीने से यूपी का पहला कूड़े से बायो सीएनजी बनाने वाला प्लांट का निर्माण कार्य शुरू होने की संभावना बन गई है। देश में कूड़े से बायो सीएनजी बनाने वाला एक प्लांट इंदौर में बना हुआ है।
इंदौर की तर्ज पर ही गाजियाबाद सिटी भी कूड़ा डिस्पोजल के मामले में स्मार्ट बनने जा रहा है। इसके तहत ही गाजियाबाद सिटी में गांव डूंडाहेड़ा के पास करीब 12 एकड़ जमीन पर बायोसीएनजी प्लांट लगाने जा रहा है। नगर निगम के प्रॉपर्टी अधीक्षक भोलानाथ गौतम का कहना है कि प्लांट लगाने के लिए कंपनी ने नगर निगम से 12 एकड़ जमीन की मांग की थी। गत दिनों नगर निगम ने यह जमीन कंपनी को आवंटित कर दी थी। अब पूरी जमीन पर नगर निगम ने कंपनी को कब्जा दे दिया है।