युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। अब शहर की गलियों और मौहल्लों में क्लीनिक चलाने वाले डॉक्टर्स को बायलॉज का लाइसेंस लेना होगा। इसके लिए नगर निगम जल्दी ही नोटिस जारी कर लाइसेंस फीस की वसूली करने की तैयारी में है।
गत दिनों निगम कार्यकारिणी की बैठक में बायलॉज फीस का एक बार फिर से निर्धारण किया गया। इसके तहत नगर निगम अब शहर में कई तरह का कारोबार करने वालों से लाइसेंस फीस की वसूली करेगा।
इसमें ऑटो वालों से लेकर शराब की दुकान, मॉडल शॉप, अस्पताल, नर्सिंग होम, डॉक्सर क्लीनिक आदि से निगम फीस की वसूली करेगा। निगम के मुख्य कर निर्धारण अधिकारी डॉ. संजीव सिन्हा ने बताया कि जल्दी ही जोनवार इन सब को नोटिस जारी किया जाएगा। नोटिस जारी होने के पन्द्रह दिनों के अंदर बायलॉज लाइसेंस निगम से हासिल करना अनिवार्य होगा।
नोटिस के बाद भी जो लाइसेंस नहीं लेगा निगम ऐसे कारोबारी के क्लीनिक, शॉप और अस्पताल के खिलाफ एक्शन लेगा। निगम का कहना है कि वह लाइसेंस नहीं लेने वाले कारोबारियों के प्रतिष्ठान सीज तक कर सकता है।