नोएडा (युग करवट)। फेडरेशन ऑफ नोएडा रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन (फोनरवा) के रविवार को होने वाले चुनाव को लेकर योगेंद्र शर्मा और एनपी सिंह पैनल ने अपनी- अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। चुनाव में जीत हासिल करने के लिए दोनों ही पैनल पूरे जी-जान से मतदाताओं को अपने पक्ष में करने में जुटे हुए हैं। दोनों ही पैनल अपनी जीत के प्रति पूरी तरह आशान्वित दिख रहे हैं, लेकिन इन्हें भीतरघात का भय भी सता रहा है।
चुनाव को लेकर योगेंद्र शर्मा और एनपी सिंह पैनल पिछले कई दिनों से जोर शोर से जनसंपर्क में लगा हुआ हैं। 220 मतदाताओं का समर्थन हासिल करने के लिए दोनों ही पैनलों ने हर पैंतरा अपनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। मतदाताओं का समर्थन हासिल करने के लिए पैनल के सदस्य हर संभव प्रयास कर रहे हैं। दोनों ही पैनलों ने मतदाताओं को अपने पक्ष में दिखाने के लिए शुक्रवार शाम को दावत के बहाने एक तरह से शक्ति प्रदर्शन किया। दोनों ही पैनलों ने पांच सितारानुमा फार्म हाउसों में दावत देकर सेक्टरवासियों, समर्थकों और मतदाताओं को बुलाया था। इस दावत के दौरान खास बात यह रही कि कुछ मतदाताओं ने दोनों ही पैनलों के दावत कार्यक्रम में पहुंचकर अपनी हाजिरी लगाई, जिससे स्पष्ट है कि चुनाव में दोनों ही पैनलों को बुरी तरह से भितरघात का सामना करना पड़ेगा। भितरघात की आशंका दोनों ही पैनलों को है, ऐसे में वे आज देर रात तक मतदाताओं को अपने पक्ष में करने का हर संभव प्रयास करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे।
सूत्रों के अनुसार दोनों पैनल से चुनाव लड़ रहे कुछ प्रत्याशी एक दूसरे पैनल के प्रत्याशियों के संपर्क में भी है। बताया जाता है कि एक पैनल का उपाध्यक्ष का प्रत्याशी दूसरे पैनल के सचिव, कोषाध्यक्ष या अन्य पद के प्रत्याशी से संपर्क कर रहा है, तथा वह उससे यह निवेदन कर रहा है कि वह अपने समर्थकों का वोट उसे दिलवा दें, तथा वह अपने समर्थकों का वोट उसे दिलवा देगा। इस तरह की बात भी संज्ञान में आई है कि वोटरों को लुभाने के लिए पैसा, मदिरा भी बाटी जा रही है।

चुनाव में सुरक्षा व्यवस्था रहेगी कड़ी
नोएडा (युग करवट)। रविवार को सेक्टर-52 स्थित बारात घर में होने वाले फोनरवा के चुनाव के दौरान पुलिस सुरक्षा व्यवस्था खासी कड़ी रहेगी। मतदान स्थल के अंदर में केवल मतदाताओं व मतदान से जु?े लोगों को ही जाने की अनुमति होगी, जबकि समर्थकों को मतदान स्थल से काफी पहले रोक दिया जाएगा। अपर पुलिस उपायुक्त कुमार रणविजय सिंह ने बताया कि मतदान स्थल पर एक सहायक पुलिस आयुक्त, कई थाना प्रभारियों व उपनिरीक्षक व पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। मतदान स्थल पर पुलिसकर्मियों द्वारा कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन कराया जाएगा। मतदान स्थल पर विवाद की स्थिति ना पैदा हो इसके लिए केवल मतदाताओं को ही प्रवेश दिया जाएगा। समर्थकों को मतदान स्थल से पहले ही रोक दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि अगर किसी तरह के विवाद की सूचना मिलती है तो आसपास के थानों की पुलिस के अलावा अतिरिक्त पुलिस बल भी भेजा जाएगा।