युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण अपनी रफ्तार से बढ़ रहा है। लेकिन अब प्रदेश के पश्चिमी जिलों में कोरोना कहर बरपा रहा है। संक्रमण की दूसरी लहर में राजधानी लखनऊ में सबसे अधिक कोरोना ने कहर बरपाया था जहां हर दिन पांच से छह मरीज संक्रमित मिल रहे थे। लेकिन अब धीरे-धीरे लखनऊ सहित पूर्वी जिलों में संक्रमण की रफ्तार कम होने लगी है लेकिन प्रदेश के पश्चिमी जिलों में कोरोना रफ्तार पकड़ रहा है। राजधानी दिल्ली से सटे जिलों में तो हालात और भी बेहाल हैं।
१५ दिन पहले जिन जिलों में संक्रमण के मामले सबसे अधिक मिल रहे थे वहां अब स्थिति कंट्रोल में आती दिख रही है। संक्रमण से मुक्त होने वालों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। प्रदेश के सबसे अधिक प्रभावित जिले लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर में बीते २४ घंटे में संक्रमण के ३ हजार, ९६० नए मामले सामने आए हैं जिसके सापेक्ष ७ हजार, ४०९ लोग ठीक हुए हैं। हालांकि, अभी भी इन जिलों में मौतों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। बीते २४ घंटों में इन जिलों में १३२ लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। जबकि इसके मुकाबले पश्चिमी यूपी के छह जिले मेरठ, गौतमबुद्घनगर, गाजियाबाद, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, बदायुं में संक्रमण के ६ हजार, ४५१ नए मामले सामने आए हैं और ४ हजार, २६ लोग ठीक हुए हैं। इस दौरान ६३ लोगों की जान भी गई है। यूपी में बीते २४ घंटे में संक्रमण के मामलों में कमी देखी गई है। यूपी में २६ हजार, ७८० नए मामले सामने आए हैं तो वहीं ३५७ मौतें भी दर्ज की गई हैं। २८ हजार, ९०२ मरीज ठीक होकर घर पहुंचे हैं। यूपी में रिकवरी रेट ८०.८ फीसदी है तो वहीं पॉज़ीटिविटी रेट ३.४ फीसदी है यानि खतरा अभी भी बरकरार है। पूर्व के मुकाबले अब पश्चिम के जिलों मेें संक्रमण के मामलों में तेजी आ रही है। लखनऊ में बीते २४ घंटे में १८६५ नए मरीज मिले हैं, ६५ लोगों की मौत हुई है तो वहीं ३७५५ लोग ठीक हुए हैं।
कानपुर में भी अब ७८२ नए मामले सामने आए हैं। ४९ लोगों की मौत हुई है तो वहीं १५५७ लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हुए हैं। वाराणसी में ७९६ नए मामले दर्ज किए गए हैं। १० लोगों की मौत और १०५४ लोग रिकवर हुए हैं। प्रयागराज में कहर बरपा रहे कोरोना संक्रमण के नए मामलों में कमी देखी गई है। यहां बीते २४ घंटे में ५१७ नए मरीज सामे आए हैं तो वहीं ८ लोगों की मौत हुई है और १०४३ लोग रिकवर हुए हैं। पूर्व के मुकाबले पश्चिमी जिलों के आंकड़ों पर नजऱ डालें तो मेरठ में ११६७ नए संक्रमण के मरीज बीते २४ घंटे में सामने आए हैं और १२ लोगों की मौत हुई है तो वहीं ७५० लोग ठीक हुए हैं। गौतमबुद्घनगर में १२६७ नए मामले, १३ मौतें और १०२७ लोग रिकवर हुए हैं। दिल्ली से सटे गाजियाबाद में ९५३ नए मामले दर्ज किए गए हैं। १५ लोगों की मौत संक्रमण से हुई है और ७१५ लोग ठीक हुए हैं।
मुरादाबाद में सबसे अधिक १३०३ नए मामले सामने आए हैं। हालांकि, यहां एक भी मौत दर्ज नहीं की गई है और ९०७ लोग ठीक भी हुए हैं। मुजफ्फरनगर में ७०४ लोग संक्रमण की चपेट में आए हैं, २१ लोगों की मौत हुई है तो वहीं ३६५ लोग रिकवर हुए हैं। बदायुं में १०५७ लोग बीते २४ घंटे में संक्रमित हुए हैं। दो लोगों की मौत हुई है और २७१ लोग ठीक हुए हैं। पूर्वी जिलों के मुकाबले पश्चिम के जिलों में बेशक मौतों की संख्या कम है लेकिन रिकवर होने वालों की संख्या कम है और संक्रमित मरीजों में हर दिन बढ़ोत्तरी हो रही है। इन जिलों में लोग संक्रमण से जूझने के साथ ही इलाज के लिए भी मशक्कत कर रहे हैं। अस्पतालों में जगह नहीं है व ऑक्सीजन और दवाओं का संकट बना हुआ है।