नोएडा (युग करवट)। थाना बिसरख पुलिस ने एक युवती की हत्या कर उसके चेहरे पर तेजाब डालकर शव की पहचान मिटाने के मामले में एक युवक और युवती को गिरफ्तार है। गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस को बताया है कि उन्होंने एक सीरियल देख कर इस षड्यंत्र को अंजाम दिया था। अपर पुलिस उपायुक्त (सेंट्रल जोन) साद मियां खान ने बताया कि बिसरख क्षेत्र में स्थित गौर सिटी मॉल से 12 नवंबर को हेमा चौधरी नामक युवती लापता हो गई थी। इस मामले की जांच में जुटी थाना पुलिस को पता चला कि हेमा के फोन की अंतिम लोकेशन बढ़पुरा गांव में था। पुलिस को पता चला कि हेमा से अंतिम बार अजय ठाकुर नामक युवक की बातचीत हुई थी।
पुलिस ने सर्विलांस विधि के आधार पर अजय ठाकुर को हिरासत में लिया तो उसने पूछताछ के दौरान बताया कि उसकी दोस्ती पायल नमक युवती से फेसबुक के माध्यम से हुई थी। पायल अजय से मिलने के लिए अपने भाइयों के खाने में नशीला पदार्थ मिला देती थी। जिससे उसके घर में अजय के आने जाने का किसी को आभास तक नहीं होता था। प्यार बढा और दोनों ने शादी का फैसला किया। इसी बीच दो बच्चों के पिता अजय से पायल ने अपनी खौफनाक साजिश साझा की। उसने अजय से कहा कि उसके माता-पिता ने 4 लोगों की वजह से आत्महत्या कर ली थी। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ, लेकिन उनकी गिरफ्तारी नहीं हुई। मुझे उनकी हत्या करनी है। उसने उससे कहा कि मुझे खुद को मरा हुआ साबित कर, उनकी हत्या करनी है ताकि उनकी हत्या के मामले में मैं ना पकड़ी जाऊं। उसने अजय से कहा कि मेरी कद काठी की एक युवती को ढूंढ कर लाओ।
अजय ने गौर सिटी मॉल में काम करने वाली हेमा चौधरी से मुलाकात की। उसकी कद काठी पायल से मिलती जुलती है। पायल को पैसे की जरूरत थी वह उसे 5 हजार रुपए का लोभ देकर अपने साथ ले गया, तथा सीधे पायल के बढ़पुरा गांव स्थित घर पर पहुंचा। पायल और अजय ने मिलकर चाकू से उसकी गले और हाथ की नस काट दी। हत्या के बाद पायल ने अपने कपड़े पहना कर उसके चेहरे पर तेजाब डाल दिया ताकि चेहरा क्षत-विक्षत हो जाय, और उसकी शिनाख्त नहीं हो पाए। इसके बाद उसने अपने हाथ से लिखा हुआ सुसाइड नोट शव के पास रखा, और प्रेमी अजय के साथ फरार हो गई।
बताया जाता है कि पायल के माता-पिता ने 6 माह पहले आत्महत्या कर ली थी। पायल के भाई की शादी कराने वाला बिचोलिया उसकी बुआ के लडक़े सुनील ने 5 लाख रुपए पायल के माता-पिता को उधार दिए थे। पुलिस को पता चला है कि हेमा की हत्या के 7 दिन बाद ही पायल ने अपने प्रेमी से शादी कर ली थी। तथा यह लोग बुलंदशहर के भूड़ चौराहे के समीप स्थित एक कॉलोनी में छुप कर रहे थे। अपर उपायुक्त ने बताया कि पुलिस ने बढ़पुरा गांव के श्मशान स्थल की भी जांच की, जहां पर हेमा को पायल समझकर जलाया गया था। उन्होंने बताया कि पुलिस उसके भाइयों से भी पूछताछ कर रही है।