प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। शहर में अवैध होर्डिंग का खेल बड़े स्तर पर खेला जा रहा है। हालांकि नगर आयुक्त डॉ. नितिन गौड़ इस मामले में जीरो टॉलरेंस नीति पर कार्य कर रहे है। इसके बावजूद शहर में एक ऐसी कंपनी के भी पन्द्रह पोल लगे हैं जिसे नगर निगम ने कभी भी शहर में होर्डिंग लगाने ठेका नहीं छोड़ा है। बताया जा रहा है कि एक प्रभावशाली व्यक्ति के इशारे पर फ्री में नगर निगम की सडक़ों पर होर्डिंग लगाने का यह खेल खेला जा रहा है। निगम की टीम ने शहर की सडक़ों पर पन्द्रह जगह पर खड़े अवैध होर्डिंग को हटाने का कार्य नहीं किया। बताया जा रहा है कि टीम के एक सदस्य ने अवैध होर्डिंग को पहचानकर उसे काटने की अनुमति भी मांगी, लेकिन उस कर्मचारी को जब तक होर्डिंग काटने की अनुमति मिलती उससे पहले ही किसी प्रभवशाली व्यक्ति का फोन आ गया और कमचारी से उक्त होर्डिंग काटने को मना कर दिया गया। इसके बाद निगम की टीम हिम्मत नहीं जुटा पाई कि इन अवैध होर्डिंग को काटा जाए।