युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। लखीमपुर खीरी में हुई घटना की समाजवादी पार्टी जिला सचिव मौहम्मद शहजाद ने कड़ी निंदा करते हुए कहा कि आज प्रदेश में कोई भी व्यक्ति अपने को सुरक्षित महसूस नहीं करता है। अगर कोई व्यक्ति अपनी आवाज उठाना चाहता है तो प्रदेश सरकार उसकी आवाज दबाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है जिसका जीता जागता उदाहरण हम लखीमपुर में हुई घटना से देख सकते हैं। उत्तर प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। यहां पर तानाशाही चल रही है, जिस तरीके से एक मंत्री के बेटे ने किसानों को अपनी गाड़ी से कुचलकर मार डाला, यह दर्शाता है कि इस प्रदेश की सरकार को अपनी आलोचना पसंद नहीं, जो भी सरकार की आलोचना करता है, उसकी आवाज़ दबाने के लिए सरकार किसी भी हद तक जा सकती है। जिला सचिव ने महामहिम राष्ट्रपति से मांग की है कि इस सरकार को तुरंत बर्खास्त करे और उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाया जाए।