युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। सरकारी अस्पताल में पैसे लेकर मरीजों का इलाज करने के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। गुरुवार को जिला अस्पताल में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया है। आरोप है कि ऑपरेशन के नाम पर डॉक्टर्स ने दस हजार रुपए की मांग की थी जिसे ना देने पर डॉक्टरों ने मरीज को ऑपरेशन थिएटर से बाहर निकाल दिया। इस घटना से गुस्साए परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। दो अन्य तीमारदारों ने भी पैसे लेने का आरोप लगाया है।
पीडि़त नितिन ने बताया कि उसकी पत्नी का ऑपरेशन होना था जिसके लिए वह काफी समय से चक्कर लगा रहा था। उसे आज ऑपरेशन की तारीख दी गई लेकिन उससे पहले उससे १५ हजार रुपये की डिमांड की गई।
वहीं विजयनगर निवासी एक महिला ने बताया कि उसका रसौली का ऑपरेशन होना था जिसके लिए उसे ऑपरेशन थिएटर बुलाकर कपड़े भी बदलवा दिए गए लेकिन जब डॉक्टरर्स ने उससे पैसे मंागे तो उसने पैसे ना होने की बात कही जिस पर डॉक्टरों ने तत्काल उसे ओटी से बाहर निकाल दिया। वहीं एक अन्य महिला ने भी डॉक्टरों पर दूरबीन से ऑपरेशन कराने के नाम पर १५ हजार रुपए की मांग करने का आरोप लगाया।
वहीं मौजूद एक चिकित्सक ने बताया कि किसी भी मरीज से ऑपरेशन के नाम पर पैसों की कोई डिमांड नहीं की गई थी। दूरबीन से ऑपरेशन होता है जिसके लिए अलग से लैंस और उपकरण आते हैं जो मरीज को खुद से अपने खर्च से लाने होते हैं। हालांकि मरीजों का हंगामा बढ़ता देख जिन डॉक्टरों पर आरोप लग रहे थे, वह मौके से गायब हो गए।