प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। निगम के पास पैसों की किल्लत चल रही है। इसी के चलते नगर निगम प्रशासन ने एक नाला व सडक़ बनाने का इस्टीमेट तो तैयार कर दिया और इसे बनाने के लिए दस करोड़ 22 लाख रुपया उत्तर प्रदेश औद्योगिक निगम से मांगा है। नगर निगम का कहना है कि उनके पास पैसे की किल्लत है। इसलिए अगर नाला और सडक़ बनवाने का कार्य कराना है तो पैसा देना होगा। नगर निगम के पास पैसे की किल्लत लंबे समय से चली आ रही है। इसी को लेकर नगर निगम प्रशासन भी इसको लेकर परेशान है। लोहा मंडी में नाला और सडक़ बनाने की मांग लंबे समय से की जा रही थी। इसके लिए कई बार व्यापार बंधु की बैठक में भी यह मामला उठाया गया था।
इसके बाद ही यूपी औद्योगिक विकास निगम के अधिकारियों ने भी नाला बनाने की सिफारिश की थी। इसके बाद नगर निगम ने लोहा मंडी में एक नाला और एक सडक़ बनाने के लिए नगर निगम प्रशासन ने इस्टीमेट बना दिया। यह इस्टीमेट करीब दस करोड़ 22 लाख रुपये का तैयार किया गया। इस इस्टीमेट के बनाने के बाद अब नगर निगम ने कहा है कि उनके पास पैसा नहीं है, इसलिए अगर लोहा मंडी में नाला और सडक़ बनवाने है तो इसके लिए पैसा औद्योगिक विकास निगम दे।